खानों के डिजिटलीकरण के लिए कोल इंडिया ने एक्सेंचर की नियुक्ति की

कोल इंडिया लिमिटेड (CIL) ने सीआईएल की 7 चुनिंदा ओपनकास्ट खानों में खदान प्रक्रिया के डिजिटलीकरण के लिए एक्सेंचर सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड (Accenture Solutions Private Ltd) को सलाहकार के रूप में नियुक्त किया है। इस कदम का उद्देश्य प्रदर्शन में तेजी लाना और उत्पादन में वृद्धि करना है।

मुख्य बिंदु

  • यह सलाहकार डिजिटलीकरण और प्रक्रिया उत्कृष्टता (process excellence) के कार्यान्वयन का नेतृत्व और समर्थन करेगा।
  • यह चिन्हित खानों से 100 मिलियन टन के बढ़े हुए कोयले के उत्पादन का भी आश्वासन देगा।
  • यह बाधाओं को दूर करने और सुधारात्मक उपाय करने में भी मदद करेगा।
  • यह कम लागत पर अधिक मात्रा में कोयला निकालने का प्रयास करेगा।

उद्देश्य

इस कदम का प्राथमिक उद्देश्य खान उत्पादकता और दक्षता बढ़ाने के लिए उपलब्ध डेटा विश्लेषणात्मक तकनीकों का उपयोग करना है। योजना, परियोजना निगरानी, ​​संचालन से लेकर प्रेषण तक आदि से उत्पादकता और दक्षता बढ़ाई जाएगी।

उच्च पैदावार वाली खदानें

7 खानों की पहचान उच्च पैदावार वाली खदानों के रूप में की गई है, जैसे कि कुसमुंडा, गेवरा, जयंत, दुधिचुआ, साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (SECL) की दीपका और नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (NCL) की निगाही और खड़िया। वित्त वर्ष 2021 के दौरान इन सभी खानों ने संयुक्त रूप से CIL द्वारा 596 मिलियन टन के कुल कोयला उत्पादन में 32% (188 मिलियन टन) का योगदान दिया था।

 

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments