गुजरात ने लांच की ‘वतन प्रेम योजना’ (Vatan Prem Yojana)

वतन प्रेम योजना के शासी निकाय ने 4 सितंबर, 2021 को अपनी पहली बैठक की। 

मुख्य बिंदु

  • उन्होंने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अध्यक्षता में गांधीनगर में बैठक की।
  • मुख्यमंत्री के समक्ष योजना के विवरण की प्रस्तुति दी गई।
  • शासी निकाय ने 1,000 करोड़ रुपये के कार्यों का प्रस्ताव रखा, जिसे दिसंबर 2022 तक पूरा किया जाना है।

परियोजना प्रबंधन इकाई

इस योजना के सुचारू कार्यान्वयन के लिए शासी निकाय ने एक परियोजना प्रबंधन इकाई का गठन किया है।

परियोजना के तहत दानदाता

शासी निकाय ने दानदाताओं के लिए अपना पैसा ऑनलाइन भेजना संभव बना दिया है। इस योजना के तहत, अनिवासी गुजराती (NRGs) और NRI ग्रामीण स्तर की परियोजना की लागत में 60% योगदान कर सकते हैं। शेष 40% राशि राज्य सरकार वहन करेगी।

वतन प्रेम योजना (Vatan Prem Yojana)

वतन प्रेम योजना गुजरात राज्य सरकार द्वारा मादर-ए-वतन योजना का एक नया रूप है। योजना के पुराने संस्करण में, राज्य सरकार और NRIs का योगदान 50:50 था।

योजना के अंतर्गत आने वाली परियोजनाएं

वतन प्रेम योजना में ग्रामीण स्तर की परियोजनाओं को शामिल किया जाएगा जैसे:

  1. स्कूलों और पुस्तकालय में स्मार्ट कक्षाएं
  2. सामुदायिक भवन, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं आंगनबाडी
  3. CCTV निगरानी प्रणाली,
  4. जल पुनर्चक्रण, जल निकासी, सीवेज उपचार और तालाबों का सौंदर्यीकरण।
  5. बस स्टैंड
  6. सौर ऊर्जा से चलने वाली स्ट्रीट लाइट आदि।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments