गुजरात: पंचमुली झील से 194 मगरमच्छों को स्थानांतरित किया गया

गुजरात के नर्मदा जिले में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (Statue of Unity) के पास पंचमुली झील से पिछले दो दिनों में 194 मगरमच्छों को स्थानांतरित किया गया है।

मुख्य बिंदु

  • पंचमुली झील में नाव की सवारी करने वाले पर्यटकों की सुरक्षा के लिए मगरमच्छों को स्थानांतरित किया गया है।
  • यह झील केवड़िया में सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा के पास स्थित है।
  • यह झील एक प्रमुख पर्यटक आकर्षण बन गया है।इसमें बड़ी संख्या में मगरमच्छ थे जो पर्यटकों के लिए खतरा थे।

पृष्ठभूमि

अक्टूबर और मार्च, 2019-20 के बीच, 143 मगरमच्छों को स्थानांतरित किया गया। 2020-21 में 51 मगरमच्छों को गांधीनगर और गोधरा के दो रेस्क्यू सेंटर में शिफ्ट किया गया। 2019-20 में 73 मगरमच्छों को सरदार सरोवर जलाशय में छोड़ा गया।

पंचमुली झील (Panchmuli Lake)

इस झील को सरदार सरोवर बांध के ‘डाइक-3’ के नाम से भी जाना जाता है। इसे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी में आने वाले पर्यटकों के लिए विकसित किया गया था।  यह झील स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से लगभग 5 किमी दूर स्थित है। यह विंध्याचल पर्वत श्रृंखला और सरदार सरोवर बांध का स्पष्ट दृश्य प्रस्तुत करती है।

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (Statue of Unity)

यह भारतीय राजनेता, स्वतंत्रता कार्यकर्ता, प्रथम उप-प्रधान मंत्री और स्वतंत्र भारत के गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की एक विशाल प्रतिमा है। यह मूर्ति गुजरात में स्थित है। इसे दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा के रूप में जाना जाता है जिसकी ऊंचाई 182 मीटर है। यह केवडिया कॉलोनी में नर्मदा नदी पर स्थित है। यह गुजरात में वडोदरा शहर से 100 किलोमीटर दक्षिण पूर्व और सूरत से 150 किलोमीटर दूर सरदार सरोवर बांध के सामने है। केवड़िया रेलवे स्टेशन स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस परियोजना की घोषणा पहली बार 2010 में की गई थी। इसका निर्माण अक्टूबर 2013 में लार्सन एंड टुब्रो द्वारा शुरू किया गया था। इसे भारतीय मूर्तिकार राम वी. सुतार ने डिजाइन किया है। सरदार पटेल की 143वीं जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 अक्टूबर, 2018 को इस प्रतिमा का उद्घाटन किया था।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments