गृह मंत्रालय ने बढ़ाई BSF की शक्तियां

गृह मंत्रालय ने  BSF की शक्तियों में वृद्धि की है। इन बढ़ी हुई शक्ति के तहत अधिकारियों के पास तलाशी और गिरफ्तारी की शक्ति होगी।

बढ़ी हुई शक्तियाँ 

  • अब BSF के अधिकारियों के पास पाकिस्तान और बांग्लादेश के साथ अंतर्राष्ट्रीय सीमा साझा करने वाले तीन नए राज्यों में 50 किमी की सीमा तक जब्ती की शक्ति भी होगी।
  • उन्हें दंड प्रक्रिया संहिता (CrPC), पासपोर्ट अधिनियम और पासपोर्ट (भारत में प्रवेश) अधिनियम के तहत यह कार्रवाई करने का अधिकार दिया गया है।
  • BSF अधिकारी पंजाब, पश्चिम बंगाल और असम राज्यों में व्यापक क्षेत्र में तलाशी और गिरफ्तारी करने में सक्षम होंगे।
  • उक्त राज्यों में BSF को राज्य पुलिस की तरह ही तलाशी और गिरफ्तारी का अधिकार होगा।
  • उनके पास मिजोरम, नागालैंड, मणिपुर, त्रिपुरा और लद्दाख में तलाशी लेने और गिरफ्तार करने का भी अधिकार है।

यह फैसला क्यों लिया गया?

  • गृह मंत्रालय के अनुसार, सीमा पार से ड्रोन के द्वारा हथियारों की खेप भेजने की कारण BSF के अधिकार क्षेत्र का विस्तार करने का निर्णय लिया गया है।
  • इस निर्णय से 10 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों में राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित अवैध गतिविधियों पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी।
  • हालांकि, इसमें प्रशासनिक और राजनीतिक मुद्दों को उठाने की संभावना है।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments

  • Akhilesh
    Reply

    Sir very good action jay hind