गोवा ने सोलर बेस्ड विद्युतीकरण कार्यक्रम लांच किया

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Pramod Sawant) ने गोवा के राज्य स्थापना दिवस (30 मई) के अवसर पर राज्य के ग्रामीण परिवारों के लिए सौर-आधारित विद्युतीकरण कार्यक्रम लांच किया।

सौर-आधारित विद्युतीकरण कार्यक्रम  (Solar-Based Electrification Programme)

यह कार्यक्रम गोवा के ग्रामीण क्षेत्रों में अक्षय ऊर्जा का उपयोग करके बिजली लाएगा जहां ग्रिड कनेक्टिविटी संभव नहीं है। इसे सभी को स्वच्छ, विश्वसनीय और सस्ती ऊर्जा देने पर फोकस के साथ लॉन्च किया गया था। Convergence Energy Services Ltd (CESL) और Goa Energy Development Agency (GEDA) के बीच समझौते पर हस्ताक्षर होने के दो दिन बाद सोलर पीवी-आधारित होम लाइटिंग सिस्टम का उद्घाटन किया गया।

यह परियोजना किस प्रकार भिन्न है?

यह विद्युतीकरण परियोजना CESL द्वारा पहली ऑफ-ग्रिड इलेक्ट्रिसिटी इंगेजमेंट है जो Remote Village Electrification (RVE) कार्यक्रम के तहत पांच साल के लिए सौर पीवी सिस्टम स्थापित करेगा। CESL ग्राम पंचायतों के समन्वय से गांवों और बस्तियों में यह कार्यक्रम चलाएगा।

CESL

CESL EESL की 100 प्रतिशत स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है। यह एक नई ऊर्जा कंपनी है जो स्वच्छ, सस्ती और विश्वसनीय ऊर्जा प्रदान करने पर केंद्रित है।

Energy Efficiency Services Limited (EESL)

ईईएसएल, दुनिया की सबसे बड़ी सार्वजनिक ऊर्जा सेवा कंपनी का स्वामित्व भारत सरकार के पास है। यह सरकारी स्वामित्व वाली एनटीपीसी लिमिटेड, पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन और पावरग्रिड का संयुक्त उद्यम है। यह ऊर्जा दक्षता परियोजनाओं (energy efficiency projects) को सुविधाजनक बनाने के लिए विद्युत मंत्रालय के तहत स्थापित की गयी थी।

 

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments