चन्द्रो तोमर (Chandro Tomar) का निधन हुआ

हाल ही में शूटर चन्द्रो तोमर का निधन हो गया है, वे कोविड-19 से संक्रमित थीं। उन्हें ‘शूटर दादी’ के नाम से जाना जाता था। वे एक बेहतरीन निशानेबाज़ थीं और महिला सशक्तिकरण का प्रतीक थीं। उनके जीवन पर ‘सांड की आँख’ नामक फिल्म भी बनाई गयी थी।

चन्द्रो तोमर

चन्द्रो तोमर का जन्म 10 जनवरी, 1932 को उत्तर प्रदेश के शामली में हुआ था। वे कभी स्कूल नहीं गयीं और 15 वर्ष की आयु में उनका विवाह हो गया था। गौरतलब है कि उन्होंने निशानेबाजी 1999 में सीखनी शुरू कि, उस समय उनकी उम्र लगभग 60 वर्ष थी। उन्होंने 30 से ज्यादा राष्ट्रीय स्तर कि चैंपियनशिप में जीत हासिल की। इसके चलते उन्हें काफी प्रसिद्धि हासिल हुई। उन्हें महिला सशक्तिकरण के प्रतीक के रूप में देखा जाता है। उनके जीवन पर ‘सांड की आँख’ नामक एक फिल्म भी बनाई गयी थी, जिसमे चन्द्रो देवी का किरदार तापसी पन्नू ने निभाया था। चन्द्रो तोमर लड़कियों और महिलाओं के लिए एक प्रेरणास्त्रोत हैं। उनका निधन 30 अप्रैल, 2021 को कोविड-19 संक्रमण के कारण 89 वर्ष की आयु में हुआ।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments