चीन ने परमाणु सक्षम हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण किया

फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने अगस्त 2021 में एक उन्नत अंतरिक्ष क्षमता का प्रदर्शन करते हुए परमाणु-सक्षम हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण किया।

रिपोर्ट के निष्कर्ष

  • इसरिपोर्ट के अनुसार, मिसाइल लांच को चीन ने गुप्त रखा था। इस मिसाइल ने अपने लक्ष्य की ओर बढ़ने से पहले दुनिया की परिक्रमा की। हालाँकि, यह लगभग 24 मील की दूरी पर अपने निशान से चूक गयी।
  • चीनी सेना ने हाइपरसोनिक ग्लाइड वाहन ले जाने वाले रॉकेट को लॉन्च किया जो निम्न कक्षा में उड़ान भरता है।
  • इस मिसाइल परीक्षण से पता चलता है कि चीन ने हाइपरसोनिक हथियारों पर प्रभावशाली प्रगति की है। यह परीक्षण अमेरिका से अधिक उन्नत था।

हाइपरसोनिक मिसाइलों का विकास

रूस, चीन और अमेरिका जैसे देश ऐसी हाइपरसोनिक मिसाइलें विकसित कर रहे हैं जो ध्वनि की गति से पांच गुना तेज गति से यात्रा करती हैं।हालांकि, वे बैलिस्टिक मिसाइलों की तुलना में धीमी गति से चलती हैं। 

चीन ने क्यों किया इस मिसाइल का परीक्षण?

चीन ने इस मिसाइल को अमेरिका-चीन की बढ़ती प्रतिद्वंद्विता, ताइवान पर चीनी दबाव के साथ-साथ पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच गतिरोध की पृष्ठभूमि में विकसित किया है।

हाइपरसोनिक और बैलिस्टिक मिसाइलों के बीच अंतर

हाइपरसोनिक मिसाइलों के प्रक्षेपवक्र (trajectory) का पता नहीं लगाया जा सकता है, जबकि बैलिस्टिक मिसाइलों के प्रक्षेपवक्र का पता लगाया जा सकता है।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments