छत्तीसगढ़ माओवादी हमला (Chhattisgarh Maoist Attack) : 22 जवान शहीद हुए

छत्तीसगढ़ में हुए एक माओवादी हमले में अब तक 22 सुरक्षा कर्मी शहीद हो गये हैं और 32 जवान घायल हुए हैं। दरअसल 3 अप्रैल, 2021 को माओवादियों के साथ सुरक्षा बलों की मुठभेड़ शुरू हुई थी। यह घटना छत्तीसगढ़ के सुकमा (Sukma) के जगरगुंडा (Jagargunda) क्षेत्र की है।

घटनाक्रम

  • 2 अप्रैल को सुरक्षा बलों की कई टीमों ने  छत्तीसगढ़ के बीजापुर और सुकमा जिलों में माओवादी विरोधी अभियान शुरू किया था। इन सुरक्षा बलों की टीमों में लगभग 2000 सुरक्षा कर्मी थे। इन बलों में CRPF, CoBRA (Commando Battalion for Resolute Action), District Reserve Guard (DRG) और Special Task Force (STF) के जवान शामिल थे।
  • जब सुरक्षा बलों की एक टीम तरेम (Tarrem) से आगे बढ़ कर जोनागुडा (Jonaguda) के निकट जंगल से गुजर रही थी, तब माओवादी उग्रवादियों ने सुरक्षा बलों पर घात लगाकर हमला किया। यह हमला माओवादी संगठन PLGA (Peoples’ Liberation Guerilla Army) के उग्रवादियों द्वारा किया गया। इस मुठभेड़ में सुरक्षा बलों के साथ कई माओवादी उग्रवादी से मारे गये हैं, फिलहाल मारे गये उग्रवादियों की पूरी जानकारी अभी तक प्राप्त नहीं हुई है।
  • गौरतलब है कि 23 मार्च को DRG के पांच कर्मी माओवादियों द्वारा नारायणपुर जिले में IED विस्फोट में मारे गये थे।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments