जलवायु परिवर्तन: यूके में पौधे लगभग एक महीने पहले फूलने लगे हैं

एक अध्ययन के अनुसार, जलवायु परिवर्तन के कारण यूनाइटेड किंगडम (यूके) में पौधे औसतन लगभग एक महीने पहले फूलने लगे हैं।

मुख्य बिंदु 

  • गर्म मौसम के कारण पतझड़ के पत्ते गिरने लगे हैं और झाड़ियों और पेड़ों पर फूल पहले दिखने लगे हैं।
  • हालांकि कुछ इन असामयिक खिलने का स्वागत कर रहे हैं, जबकि वैज्ञानिक जलवायु जोखिमों की चेतावनी दे रहे हैं।
  • यदि प्रवृत्ति जारी रहती है, तो कीड़ों, पक्षियों और पूरे पारिस्थितिक तंत्र पर प्रभाव पड़ सकता है।

पारिस्थितिक बेमेल का जोखिम (Risk of Ecological Mismatch)

असामयिक फूल आने से पारिस्थितिक असंतुलन हो सकता है। इसका खेती और प्रकृति के “कामकाज और उत्पादकता पर” नाटकीय प्रभाव पड़ेगा। ग्लोबल वार्मिंग के परिणामस्वरूप कई जगहों पर वसंत ऋतु का जल्दी आगमन और पतझड़ का देर से आगमन होता है। सभी जानवर और पौधे एक ही दर से अनुकूलन नहीं कर रहे हैं। यदि ये प्रजातियां एक-दूसरे के साथ तालमेल बिठाने में असफल रहती हैं, तो यह पारिस्थितिक बेमेल का कारण बन सकती है।

खाद्य संसाधनों से जुड़े जोखिम

पराग, बीज और पौधों के फल पक्षियों, कीड़ों और अन्य वन्यजीवों के लिए महत्वपूर्ण खाद्य संसाधन हैं। यदि फूल बहुत जल्दी दिखाई देते हैं, तो वे पाले की चपेट में आ सकते हैं। ऐसे में फलों के पेड़ों की फसल को नुकसान हो सकता है।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments