जस्टिस एन.वी. रमण (Justice N.V. Ramana) होंगे भारत के 48वें मुख्य न्यायाधीश

भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने एस.ए. बोबडे द्वारा की गई सिफारिश को स्वीकार करते हुए न्यायमूर्ति एन.वी. रमण को भारत के 48वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया है। जस्टिस रमण का कार्यकाल 26 अगस्त, 2022 तक होगा। 17 फरवरी, 2014 को सुप्रीम कोर्ट में पदोन्नति से पहले, जस्टिस रमण दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश थे।

न्यायमूर्ति एन.वी. रमण (Justice N.V. Ramana – Nuthalapati Venkata Ramana)

न्यायमूर्ति एन.वी. रमण (नूतलपति वेंकटरमण) वर्तमान में सर्वोच्च न्यायालय के न्यायधीश हैं। वे 8 साल से सर्वोच्च न्यायालय में कार्य कर रहे हैं। वे 24 अप्रैल, 2021 को भारत के मुख्य न्यायधीश का पद संभालेंगे।

एन.वी. रमण का जन्म आंध्र प्रदेश में 27 अगस्त, 1957 को हुआ था। छात्र के रूप में उन्होंने 1975 में आपातकाल के दौरान नागरिक स्वतंत्रता के लिए संघर्ष किया। उन्होंने अधिवक्ता के रूप में 10 फरवरी, 1983 को एनरोल किया था। वे 27 जून, 2000 को आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय के स्थाई न्यायधीश बने थे। 2 सितम्बर, 2013 को उन्हें दिल्ली उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायधीश नियुक्त किया गया था। 17 फरवरी, 2014 को वे सर्वोच्च न्यायालय के न्यायधीश बने थे।

Categories:

Tags: , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments