टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स ने मोबाइल कॉम्पोनेन्ट यूनिट स्थापित करने के लिए तमिलनाडु के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये

टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स ने मोबाइल घटकों के निर्माण की फैसिलिटी स्थापित करने के लिए तमिलनाडु सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

मुख्य बिंदु

  • टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स की परियोजना पर 4684 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे।
  • यह मोबाइल फोन के मैकेनिकल एन्क्लोजर के निर्माण के लिए कृष्णगिरि में स्थापित किया जाएगा।
  • यह परियोजना 18,250 लोगों के लिए रोजगार सृजित करने में मदद कर सकती है।
  • चेय्यार में पेंट निर्माण इकाई स्थापित करने के लिए तमिलनाडु ने ग्रासिम इंडस्ट्रीज के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।इसे 750 करोड़ रुपये के निवेश से स्थापित किया जाएगा।
  • कुल मिलाकर, तमिलनाडु ने परियोजनाओं के लिए 28 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए हैं, इनके लिए बजट परिव्यय 28,000 करोड़ रुपये है।

टाटा समूह

यह एक भारतीय बहुराष्ट्रीय समूह है। इस कंपनी का मुख्यालय मुंबई में है। इसकी स्थापना जमशेदजी टाटा ने वर्ष 1868 में की थी। यह कंपनी भारत के सबसे बड़े और सबसे पुराने औद्योगिक समूहों में से एक है। प्रत्येक टाटा कंपनी अपने स्वयं के निदेशक मंडल और शेयरधारकों के तहत स्वतंत्र रूप से काम कर रही है। टाटा से जुड़ी कंपनियों में टाटा कम्युनिकेशंस, टाटा केमिकल्स, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, टाटा मोटर्स, टाटा एलेक्सी, ताज एयर, टाटा पावर, जमशेदपुर एफसी, तनिष्क, टाटा स्टील, वोल्टास, टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड, टाटा क्लिक, टाटा कैपिटल, टाइटन, ट्रेंट, इंडियन होटल्स कंपनी लिमिटेड, क्रोमा और टाटा स्टारबक्स और विस्तारा शामिल हैं।

ग्रासिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड

यह एक भारतीय निर्माण कंपनी है। इसका मुख्यालय मुंबई में है। फोर्ब्स द्वारा संकलित दुनिया की सबसे अच्छी कंपनियों की सूची में इस कंपनी को 154वें स्थान पर रखा गया था। यह एक कपड़ा निर्माता के रूप में वर्ष 1947 में स्थापित की गयी थी। यह आदित्य बिड़ला समूह की सहायक कंपनी है।

 

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments