टायरानोसोरस रेक्स की कुल संख्या 2.5 अरब से भी ज्यादा थी : अध्ययन

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में एक नए अध्ययन के अनुसार पृथ्वी पर कुल 2.5 बिलियन से अधिक टायरानोसोरस रेक्स निवास करते थे।

अध्ययन के मुख्य निष्कर्ष

  • डायनासोर की संख्या की गणना शरीर के आकार और यौन परिपक्वता के आधार पर की गई थी। ये डायनासोर 1,27,000 से अधिक पीढ़ियों तक थे।
  • हालांकि इनका जनसंख्या घनत्व कम था।
  • एक शहर जितने बड़े क्षेत्र में संभवतः दो डायनासोर रहते थे ।
  • इस अध्ययन ने वैज्ञानिकों को टायरानोसोरस रेक्स जीवाश्मों के संरक्षण की दर निर्धारित करने में मदद की।
  • अब तक पृथ्वी पर टी रेक्स के 100 जीवाश्म पाए गए हैं।

जनसंख्या की गणना कैसे की गई?

वैज्ञानिकों ने सामान्य जैविक नियम के आधार पर डायनासोर की आबादी की गणना की कि जानवर जितना बड़ा होता है, उसकी आबादी उतनी ही कम होती है। फिर उन्होंने जीवित रहने के लिए टी रेक्स द्वारा आवश्यक ऊर्जा की मात्रा की गणना की गयी। उन्होंने इस तथ्य का भी इस्तेमाल किया कि ये डायनासोर 28 साल तक जीवित रहे और 14 से 17 साल की उम्र तक परिपक्व हो गए।

डायनासोर के भारतीय जीवाश्म रिकॉर्ड

डायनासोर का सबसे पुराना भारतीय जीवाश्म रिकॉर्ड ट्राइसिक काल (Triassic Period) का है। ट्राइसिक काल 251.9 मिलियन साल और 201.3 मिलियन साल पहले का काल है।

डायनासोर

  • डायनासोर्स पहली बार ट्राईसिक काल के दौरान दिखाई दिए।
  • वे ट्राइसिक-जुरासिक विलुप्ति घटना के बाद प्रमुख स्थलीय कशेरुक बन गए।

ट्राइसिक-जुरासिक विलुप्ति घटना (Triassic-Jurassic Extinction Event)

इसने 23% से 34% समुद्री प्रजातियों को नष्ट कर दिया था। इस घटना के बाद, डायनासोर सबसे प्रमुख प्रजाति बन गए।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments