तमिलनाडु: प्रकृति संरक्षण मिशनों का प्रबंधन करेगा SPV

तमिलनाडु सरकार ने जलवायु कार्रवाई की दिशा में एक बड़ी छलांग लगाते हुए, राज्य में प्राकृतिक संरक्षण मिशनों के प्रबंधन के लिए पहला विशेष प्रयोजन वाहन (Special Purpose Vehicle – SPV) स्थापित किया है।

मुख्य बिंदु

  • इस विशेष प्रयोजन वाहन को “तमिलनाडु ग्रीन क्लाइमेट कंपनी” (Tamil Nadu Green Climate Company) कहा जा रहा है।
  • यह कंपनी व्यावसायिक रूप से तीन महत्वपूर्ण प्राकृतिक संरक्षण मिशनों का प्रबंधन करेगी, अर्थात् तमिलनाडु जलवायु परिवर्तन मिशन, तमिलनाडु आर्द्रभूमि मिशन और तमिलनाडु ग्रीन मूवमेंट मिशन।

SPV के सदस्य और फण्ड

इस SPV की अधिकृत पूंजी 5 करोड़ रुपये होगी। इसके सदस्य में शामिल हैं-

  1. अध्यक्ष और एमडी: राज्य पर्यावरण सचिव
  2. सदस्य: वित्त, नगरपालिका प्रशासन, ऊर्जा, कृषि और वन विभागों के शीर्ष अधिकारी।

SPV का मिशन

इस SPV के मिशन में शामिल हैं:

  1. जलवायु परिवर्तन अनुकूलन और शमन पर राज्य में कई कार्यक्रमों की योजना, निष्पादन और निगरानी।
  2. आर्द्रभूमि मानचित्रण और रिकवरी।
  3. वन और वृक्ष आच्छादन को 33% तक बढ़ाना।
  4. यह ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन को कम करने के लिए रणनीति तैयार करेगा और हरित विनिर्माण की ओर बढ़ने के लिए उद्योगों को बेंचमार्क करेगा।
  5. यह SPV सतत भविष्य के लिए पर्यावरण के अनुकूल प्रौद्योगिकियों को भी बढ़ावा देगा।

पृष्ठभूमि

राज्य के वित्त मंत्री ने 2021-2022 के लिए संशोधित बजट पेश करते हुए तीन मिशनों की घोषणा की। जलवायु परिवर्तन अनुकूलन और शमन गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए, 500 करोड़ रुपये के कुल परिव्यय के साथ तमिलनाडु जलवायु परिवर्तन मिशन शुरू किया गया था।

तमिलनाडु आर्द्रभूमि मिशन (Tamil Nadu Wetlands Mission)

यह मिशन 5 वर्षों में 100 आर्द्रभूमियों की पहचान और मानचित्रण के लिए शुरू किया गया था। यह 150 करोड़ रुपये की लागत से आजीविका पर ध्यान देने के साथ पारिस्थितिक संतुलन को बहाल करने में भी मदद करेगा।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments