नाटो ने DEFENDER-Europe 21 सैन्य अभ्यास शुरू किया

उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (North Atlantic Treaty Organisation – NATO) ने हाल ही में अल्बानिया में एक संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू किया है जिसे “DEFENDER-Europe 21” नाम दिया गया है। अमेरिका के हजारों सैनिक इस अभ्यास में भाग ले रहे हैं।

DEFENDER-Europe

  • यह अभ्यास एक वार्षिक अमेरिकी नेतृत्व वाला बहुराष्ट्रीय अभ्यास है।
  • यह प्रकृति में रक्षात्मक है।
  • यह निवारक आक्रामकता पर केंद्रित है।

DEFENDER Europe 21

  • 2021 में, यह अभ्यास परिचालन तत्परता और इंटरओपेराबिलिटी के निर्माण पर केंद्रित है।
  • अमेरिका और उसके सहयोगी देशों के 28,000 से अधिक सैनिक इस अभ्यास में भाग ले रहे हैं।
  • 26 से अधिक देश काला सागर, बाल्कन क्षेत्रों से बाल्टिक तक और अफ्रीका के 30 से अधिक प्रशिक्षण क्षेत्रों में एक साथ अभ्यास करेंगे।
  • USNS बॉब होप (USNS Bob Hope) छोटे जहाजों पर भारी उपकरण उतारने का प्रदर्शन करेगा।

नाटो (NATO)

  • नाटो का उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (NATO – North Atlantic Treaty Organisation) है।यह 30 उत्तरी अमेरिकी और यूरोपीय देशों के बीच एक अंतर-सरकारी सैन्य गठबंधन है।
  • 1947 में, फ्रांस और यूके ने “डनकर्क की संधि” (Treaty of Dunkirk) (यह नाटो की स्थापना थी) पर हस्ताक्षर किए। यह देशों के बीच एक सैन्य गठबंधन था। द्वितीय विश्व युद्ध के बाद की स्थितियों में जर्मनी या सोवियत संघ द्वारा संभावित हमले की स्थिति में इस पर हस्ताक्षर किए गए थे। अमेरिका, कनाडा, इटली, डेनमार्क, नॉर्वे, पुर्तगाल और आइसलैंड 1949 में इस संधि में शामिल हुए।
  • पहला नाटो सैन्य अभ्यास 1952 में आयोजित किया गया था।
  • सोवियत संघ ने नाटो का मुकाबला करने के लिए वारसा संधि (Warsaw Pact) पर हस्ताक्षर किए।

वारसा संधि (Warsaw Pact

)

पश्चिम जर्मनी के नाटो में एकीकरण के बाद वारसा संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे। इस पर  में हस्ताक्षर किये गये थे। यह वारसॉ, पोलैंड में हस्ताक्षरित किया गया था। यह सोवियत संघ, मध्य और पूर्वी यूरोप के सात अन्य देशों के बीच हस्ताक्षरित कीया गया था। नाटो की तरह उनके बीच कोई सैन्य व्यवहार नहीं था।  1968 में वॉरसॉ संधि की सबसे बड़ी सैन्य गतिविधि चेकोस्लोवाकिया पर आक्रमण थी। अल्बानिया और रोमानिया ने इस आक्रमण में भाग नहीं लिया। बाद में अल्बानिया इस समझौते से हट गया था (2009 में अल्बानिया नाटो में शामिल हो गया)।

आक्रमण में भाग लेने वाले वारसॉ संधि के अन्य देश पोलैंड, सोवियत संघ, हंगरी, पूर्वी जर्मनी और बुल्गारिया थे।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments