नासा का Laser Communications Relay Demonstration (LCRD) : मुख्य बिंदु

नासा अंतरिक्ष संचार में तेजी लाने के उद्देश्य से अंतरिक्ष में “Laser Communications Relay Demonstration (LCRD)” तकनीक का परीक्षण करने जा रहा है।

मुख्य बिंदु

  • LCRD दो साल की देरी के बाद 4 दिसंबर को लॉन्च किया जाएगा।
  • इसे स्पेस टेस्ट प्रोग्राम सैटेलाइट-6 (STPSat-6) मिशन के दौरान यूनाइटेड लॉन्च अलायंस एटलस V रॉकेट पर रक्षा विभाग द्वारा अंतरिक्ष में लॉन्च किया जाएगा।
  • इस मिशन को फ्लोरिडा के केप कैनावेरल स्पेस फोर्स स्टेशन से लॉन्च किया जाएगा।
  • यह “आर्टेमिस मानवयुक्त चंद्रमा-लैंडिंग मिशन” को लाभान्वित करेगा, जिसे 2025 में क्रियान्वित किया जायेगा।

लेजर मिशन का महत्व

अंतरिक्ष में लेजर तकनीक रेडियो फ्रीक्वेंसी के मुकाबले 10-100 गुना अधिक डेटा को पृथ्वी पर वापस भेजने की अनुमति देगी। यह तकनीक रेडियो फ्रीक्वेंसी स्पेक्ट्रम की भीड़भाड़ को भी रोकेगी। LCRD महत्वपूर्ण है क्योंकि नासा और वाणिज्यिक क्षेत्र कई अंतरिक्ष मिशन की योजना बना रहे हैं।

पृष्ठभूमि

लेजर मिशन की योजना को 2011 में मंजूरी दी गई थी। बाद में, कोविड -19 महामारी प्रेरित प्रतिबंधों के कारण मिशन स्थगित कर दिया गया।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments