नासा के मार्स रोवर ने अपना पहला चट्टान का नमूना एकत्र किया

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के नवीनतम मार्स रोवर ने पृथ्वी पर वापसी के लिए पहला चट्टान का  नमूना सफलतापूर्वक एकत्र किया है।

मुख्य बिंदु 

  • इस चट्टान के नमूने को परसेवेरांस रोवर के चीफ इंजीनियर एडम स्टेल्ट्जनर (Adam Steltzner) ने परफेक्ट कोर सैंपल करार दिया था ।
  • पहले के प्रयास में, नमूने को उखड़ने के लिए परसेवेरांस ने अधिक नरम चट्टान में ड्रिल किया, लेकिन यह टाइटेनियम ट्यूब के अंदर नहीं मिला। फिर रोवर ने  बेहतर सैंपलिंग स्पॉट के लिए आधा मील की दूरी तय की।
  • परसेवेरांस फरवरी 2021 में मंगल के जेजेरो क्रेटर (Jezero Crater) पर पहुंचा था।
  • नासा ने परसेवेरांस  द्वारा एकत्र किए गए नमूने प्राप्त करने के लिए और अधिक अंतरिक्ष यान लॉन्च करने की योजना बनाई है।

मार्स 2020 मिशन (Mars 2020 Mission)

मार्स 2020 मिशन जुलाई 2020 में लांच किया गया था। यह नासा के मंगल अन्वेषण कार्यक्रम का एक हिस्सा है। मार्स 2020 मिशन को एटलस वी लॉन्च वाहन (Atlas V Launch Vehicle) से लॉन्च किया गया था।

यह 2020 में मंगल ग्रह के लिए लॉन्च किए गए तीन मिशनों में से एक है। अन्य दो मंगल मिशन इस प्रकार थे:

  • तियानवेन-1 मिशन चीन द्वारा लांच किया गया था।
  • यूएई द्वारा ‘होप ऑर्बिटर’ को लांच किया गया था।

इन्जेन्यूटी हेलीकाप्टर (Ingenuity Helicopter)

  • इन्जेन्यूटी दूसरे ग्रह में संचालित उड़ान का एक प्रौद्योगिकी प्रदर्शन है।
  • नासा इन्जेन्यूटी हेलीकॉप्टर की मदद से परीक्षण उड़ानों का प्रदर्शन करेगा।
  • इन्जेन्यूटी हेलीकाप्टर की मुख्य चुनौती यह है कि इसे -130 डिग्री फ़ारेनहाइट के कम तापमान में जीवित रहना होगा। इस तरह के कम तापमान इस क्राफ्ट पर बैटरियों को फ्रीज और क्रैक कर सकते हैं।
  • इस हेलीकॉप्टर का वजन 8 किलोग्राम है।
  • यह एक सौर ऊर्जा संचालित हेलीकाप्टर है।
  • हेलीकॉप्टर की पूर्ण गति 2,400 आरपीएम है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments