निवेशकों और व्यवसायों के लिए राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली लांच की गई

केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग और उपभोक्ता मामले व वितरण मंत्री पीयूष गोयल ने 22 सितंबर, 2021 को निवेशकों और व्यवसायों के लिए राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली (National Single Window System for Investors and Businesses) लांच की।

मुख्य बिंदु 

  • राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली (National Single Window System) भारत को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में एक बड़ी छलांग है।
  • यह प्रणाली अनुमोदन और पंजीकरण के लिए सरकारी कार्यालयों की ओर दौड़ने की विरासत से मुक्ति दिलाएगी।
  • यह ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ और ‘ईज ऑफ लिविंग’ को भी बढ़ावा देगी।
  • अनुमोदन और मंजूरी के उद्देश्य से यह पोर्टल निवेशकों के लिए वन-स्टॉप-शॉप बन जाएगा।
  • अब तक, यह पोर्टल 18 केंद्रीय विभागों और 9 राज्यों में स्वीकृतियों की मेजबानी करता है। दिसंबर 2021 तक 14 केंद्रीय विभागों और 5 राज्यों को पोर्टल से जोड़ा जाएगा।

राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली (National Single Window System)

  • इस पोर्टल में सभी समाधान शामिल हैं और यह ‘एंड टू एंड’ सुविधा के माध्यम से माउस के एक क्लिक पर सभी के लिए उपलब्ध होगा।
  • इसमें एक आवेदक डैशबोर्ड शामिल है जो प्रश्नों को ट्रैक करने और जवाब हासिल करने में मदद करेगा।

पोर्टल का महत्व

  • यह पोर्टल पारिस्थितिकी तंत्र में पारदर्शिता, जवाबदेही और जवाबदेही लाने में मदद करेगा।
  • सभी जानकारी एक ही डैशबोर्ड पर उपलब्ध होगी।
  • यह मेक इन इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, PLI योजना आदि जैसी अन्य योजनाओं को भी मजबूती प्रदान करेगा।

पृष्ठभूमि

वित्त मंत्री ने केंद्रीय बजट 2020 में एक महत्वाकांक्षी “इन्वेस्टमेंट क्लीयरेंस सेल (ICC) की घोषणा की थी जो निवेशकों को” एंड टू एंड “सुविधा और समर्थन, पूर्व-निवेश सलाह, भूमि बैंकों से संबंधित जानकारी और केंद्र और राज्य स्तर पर मंजूरी की सुविधा प्रदान करेगी। इस सेल को एक ऑनलाइन डिजिटल पोर्टल के माध्यम से संचालित करने का प्रस्ताव दिया गया था।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments