नेपाल बनेगा भारत के UPI प्लेटफॉर्म को अपनाने वाला पहला देश

नेपाल भारत की UPI प्रणाली को अपनाने वाला पहला देश होगा जो नेपाल देश की डिजिटल अर्थव्यवस्था के आधुनिकीकरण में महत्वपूर्ण होगा।

मुख्य बिंदु 

नेपाल में सेवाएं देने के लिए NPCI की अंतर्राष्ट्रीय शाखा NPCI International Payments Ltd (NIPL) ने मनम इंफोटेक और गेटवे पेमेंट्स सर्विस (GPS) के साथ साझेदारी की है। नेपाल में, GPS अधिकृत भुगतान प्रणाली ऑपरेटर है, और मनम इन्फोटेक वहां यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) को लागू करेगा।

सहयोग का उद्देश्य

NPCI के अनुसार, यह सहयोग नेपाल में इंटरऑपरेबल रीयल-टाइम पर्सन-टू-मर्चेंट (P2M) और पर्सन-टू-पर्सन (P2P) लेनदेन को मजबूत करके नेपाल की जनता को लाभान्वित करेगा।

यह भविष्य में नेपाल और भारत के बीच वास्तविक समय सीमा पार P2P हस्तांतरण का रास्ता खोलेगा। UPI की रीयल-टाइम भुगतान प्रणाली नेपाल की वित्तीय समावेशन प्रक्रिया में तेजी लाने में मदद कर सकती है और साथ ही व्यापार के अवसरों का विस्तार भी कर सकती है।

यह नेपाल के डिजिटल भुगतान बुनियादी ढांचे के आधुनिकीकरण में सहायता करेगा और नागरिकों को डिजिटल भुगतान की सुविधा प्रदान करेगा।

NPCI

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम की स्थापना वर्ष 2008 में हुई थी, इसका प्रबंधन भारत सरकार के वित्त मंत्रालय द्वारा किया जाता है। यह भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा भारत के खुदरा भुगतान और निपटान प्रणाली के प्रबंधन के लिए स्थापित किया गया था।

NPCI International Payments Limited (NIPL)

NPCI ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने उत्पाद का विपणन करने के लिए एक अलग व्यवसाय स्थापित किया है। अफ्रीका, एशिया और मध्य पूर्व के देशों ने अपने भुगतान ढांचे को मजबूत करने के लिए NPCI से संपर्क किया है। NIPL  सीमा पार प्रेषण, UPI कार्यान्वयन और डिजिटल भुगतान में स्वदेशी रूप से उत्पादित प्रौद्योगिकियों के उपयोग जैसे क्षेत्रों में अंतरराष्ट्रीय भागीदारों के साथ घनिष्ठ सहयोग चाहता है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments