पंजाब में लांच किया गया ‘हर घर पानी, हर घर सफाई’ मिशन

हाल ही में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ‘हर घर पानी, हर घर सफाई’ मिशन लांच किया है।

मुख्य बिंदु

यह मिशन 2022 तक सभी ग्रामीण घरों में 100 प्रतिशत पाइप से जलापूर्ति के लक्ष्य को पूरा करने के सरकार के अभियान का हिस्सा है।

मेगा सरफेस वाटर सप्लाई स्कीम

  • कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक मेगा सर्फेस वाटर सप्लाई योजना का भी उद्घाटन किया।इस योजना के तीन घटक हैं:
  1. इसमें मोगा जिले के 85 गाँव शामिल हैं।
  2. इसमें 172 गांवों के लिए 144 नई जलापूर्ति योजनाएं शामिल हैं।
  3. इसमें 121 आर्सेनिक और आयरन हटाने वाले प्लांट भी शामिल हैं।
  • इस योजना से अमृतसर, तरनतारन और गुरदासपुर जिलों के 155 गाँवों के 6 लाख निवासियों को लाभ होगा।
  • यह योजना आर्सेनिक प्रभावित बस्तियों की समस्या को हल करेगी।
  • इस योजना को विश्व बैंक, नाबार्ड, भारत सरकार के जल जीवन मिशन और राज्य बजट द्वारा वित्त पोषित किया जा रहा है।

पृष्ठभूमि

सरकार ने जलापूर्ति और स्वच्छता योजनाओं पर सालाना औसतन 920 करोड़ खर्च किए हैं। डेटा के अनुसार, मार्च 2017 से ग्रामीण स्वच्छता और ग्रामीण पेयजल आपूर्ति पर 1450 करोड़ खर्च किए गए थे।

सरकार ने 10 नई बहु-ग्राम सतह जलापूर्ति योजना को भी लॉन्च किया। इस योजना की लागत  1,020 करोड़ रुपये है। इसमें पटियाला, फतेहगढ़ साहिब, अमृतसर, गुरदासपुर और तरनतारन जिलों में जल गुणवत्ता प्रभावित क्षेत्रों के 1,018 गाँव शामिल होंगे।

जल जीवन मिशन

जल जीवन मिशन 15 अगस्त, 2019 को लांच किया गया था। इस योजना को सुरक्षित और पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से शुरू किया गया था। यह योजना ग्रामीण भारत में 2024 तक घरों में नल का पानी उपलब्ध करवाने का प्रयास करेगी है।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments