पंजाब COVAX सुविधा में शामिल होगा

पंजाब सरकार ने हाल ही में घोषणा की कि वह अपनी COVID-19 आपूर्ति बढ़ाने के लिए COVAX सुविधा में शामिल होगी।

पंजाब COVAX सुविधा में क्यों शामिल हो रहा है?

भारत में वैक्सीन की भारी कमी है। यह देश के टीकाकरण प्रयासों को धीमा कर रहा है। इस प्रकार पंजाब सरकार COVAX सुविधा में शामिल होने की योजना बना रही है।

पंजाब में COVAX सुविधा में शामिल होने में क्या समस्या है?

COVAX सुविधा अब तक केवल राष्ट्रों के स्तर पर ही काम कर रही है। यह सुविधा वैक्सीन राष्ट्रवाद (vaccine nationalism) को रोकने के लिए काम करती है । इसका उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि COVID-19 के टीके निम्न-आय स्तर और उच्च-आय स्तर दोनों देशों तक पहुँचें। हालाँकि इसमें यह स्पष्ट नहीं है कि कोई राज्य इस सुविधा में शामिल हो सकता है या नहीं।

समस्या का बड़ा दृष्टिकोण

  • पंजाब COVAX सुविधा प्राप्त करने के लिए योग्य (eligible) नहीं है। इन सबसे ऊपर, वर्तमान में COVAX स्वयं वैक्सीन आपूर्ति प्राप्त करने के लिए संघर्ष कर रहा है।

समस्या क्यों पैदा हुई?

  • यह समस्या मुख्य रूप से इसलिए पैदा हुई है क्योंकि भारत  में वर्तमान में केवल तीन टीके लगाये जा रहे हैं। इसमें से रूसी स्पुतनिक वी का इस्तेमालहाल ही में शुरू किया गया था। इसके चलते देश में वैक्सीन की भारी कमी है।
  • ऐसा इसलिए है क्योंकि अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोपीय संघ में अन्य अमीर अर्थव्यवस्थाओं ने वैक्सीन डेवलपर्स के साथ शुरुआती बुकिंग की है।अमेरिका ने छह निर्माताओं को अग्रिम भुगतान के रूप में 10 अरब अमेरिकी डॉलर दिए हैं। इस तरह के कदम भारत में शुरू नहीं किए गए थे। न तो राज्य सरकार और न ही केंद्र सरकार ने टीके खरीदने में अग्रिम भुगतान करने की पहल की।

COVAX

इस सुविधा का उद्देश्य सभी देशों को COVID-19 टीके उपलब्ध कराना है। इस सुविधा का मुख्य उद्देश्य टीका राष्ट्रवाद को रोकना है।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments