पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए वाराणसी-चुनार क्रूज सेवा (Varanasi-Chunar Cruise Service) शुरू की गयी

वाराणसी-चुनार क्रूज सेवा (Varanasi-Chunar Cruise Service) 5 सितंबर, 2021 को शुरू हुई और इसने वाराणसी में पर्यटन सुविधाओं में एक नया आयाम जोड़ा।

मुख्य बिंदु 

  • गंगा नदी में यह क्रूज सेवा वाराणसी से मिर्जापुर के ऐतिहासिक चुनार किले तक चलेगी।
  • वाराणसी की यात्रा करने वाले पर्यटक अब गंगा नदी में लगभग 30 किमी लंबी यात्रा कर सकते हैं।
  • पर्यटक अब रविदास घाट से सुबह 9 बजे शुरू होने वाली दिन भर की लग्जरी क्रूज राइड का आनंद ले सकते हैं।
  • यह चुनार किले से शाम करीब 5 बजे वाराणसी वापस लौटेगी ।
  • राज्य सरकार इस यात्रा को प्रयागराज में संगम तक बढ़ाने की योजना बना रही है।

चुनार का किला (Chunar Fort)

चुनार का किला उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में स्थित है। चुनार शहर भी किले के नीचे स्थित है। दोनों स्थान समान इतिहास और किंवदंतियों के साथ ऐतिहासिक महत्व के स्थान हैं। यह वाराणसी से 23 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम में स्थित है। इस किले का दक्षिण-पूर्वी भाग गंगा नदी के चट्टानी तट को छूता है। किले का इतिहास काल 56 ईसा पूर्व और अफगान वंश के शेर शाह सूरी के शासन, मुगल साम्राज्य के शासन के साथ-साथ 1782 से 1804 में मराठा शासन के बीच है। ब्

संत रविदास घाट

रविदास घाट वाराणसी का सबसे दक्षिणी और सबसे बड़ा घाट है। यह रविदासियों एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थान के रूप जाना जाता है इसमें 25 एकड़ का पार्क शामिल है जिसे संत रविदास स्मारक पार्क के नाम से जाना जाता है। इसके निर्माण की घोषणा फरवरी 2008 में की गई थी और 2009 में इसका उद्घाटन किया गया था।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments