पीएम मोदी अपने वियतनामी समकक्ष के साथ वर्चुअल समिट में भाग लेंगे

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने वियतनामी समकक्ष गुयेन जुआन फुक के साथ आभासी शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। इस शिखर सम्मेलन के दौरान दोनों नेता व्यापक द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करेंगे। इसके अलावा वे भारत-वियतनाम के बीच व्यापक रणनीतिक साझेदारी पर भी चर्चा करेंगे।

मुख्य बिंदु

वर्ष 2020 में, दोनों देशों ने उच्च-स्तरीय आदान-प्रदान जारी रखा है। वियतनाम की उप-राष्ट्रपति डांग थी न्गोक थिन्ह ने इस वर्ष फरवरी में भारत की यात्रा की थी। COVID-19 महामारी से उत्पन्न स्थिति पर चर्चा करने के लिए दोनों प्रधानमंत्रियों ने इस वर्ष 13 अप्रैल को टेलीफोन पर बातचीत की थी। 25 अगस्त, 2020 दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की संयुक्त अध्यक्षता वाले संयुक्त आयोग की बैठक का 17वां संस्करण आयोजित किया गया था। इसके अलावा, रक्षा मंत्री ने पिछले महीने अपने विएतनामी समकक्ष के साथ एक ऑनलाइन बैठक में भाग लिया था।

भारत पिछले कुछ समय से पूर्व एशियाई देशों के साथ अपने संबंधों को मज़बूत कर रहा है, यह भारत की एक्ट ईस्ट पालिसी का हिस्सा है।

भारत-आसियान

इस शिखर सम्मेलन के दौरान, भारत और आसियान “आसियान-भारत योजना (2021-2025)” को अपनाएंगे। आसियान के दस सदस्यों में इंडोनेशिया, फिलीपींस, मलेशिया, सिंगापुर, थाईलैंड, वियतनाम, ब्रुनेई, लाओस, कंबोडिया, म्यांमार शामिल हैं।

भारत के लिए आसियान क्यों महत्वपूर्ण है?

भारत को वायु, भूमि और पानी के माध्यम से आसियान देशों के साथ अपने व्यापार और कनेक्टिविटी का निर्माण करके पूर्वोत्तर क्षेत्र का विकास करना है। यह भारत की एक्ट ईस्ट पॉलिसी का मुख्य केंद्र बिंदु है। आसियान के साथ अपने व्यापार को बेहतर बनाने के लिए भारत ने म्यांमार, थाईलैंड और वियतनाम जैसे देशों के साथ अपने संपर्क बढ़ाए हैं। भारत ने 1,400 किलोमीटर त्रिपक्षीय राजमार्ग बनाने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं जो भारत, म्यांमार और थाईलैंड को जोड़ेगा। कालादान मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट प्रोजेक्ट लागू किया जा रहा है। यह परियोजना मिज़ोरम राज्य के साथ सितवे पोर्ट को जोड़ेगी।  नई दिल्ली और हनोई को जोड़ने की योजना पर भी विचार किया जा रहा है।

आसियान भारत का चौथा सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार है। आसियान के साथ भारत का समग्र व्यापार देश के समग्र व्यापार का 10.6% है।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments