पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल के हल्दिया में 4,700 करोड़ रुपये की चार बुनियादी ढांचा परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 7 फरवरी, 2021 को पश्चिम बंगाल के हल्दिया में 4700 करोड़ रुपये की चार बुनियादी ढांचा परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित किया। प्रधानमंत्री ने इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड की हल्दिया रिफाइनरी में दूसरी कैटेलिटिक-इसोडेवेक्सिंग यूनिट की आधारशिला रखी। उन्होंने भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड, बीपीसीएल के एलपीजी आयात टर्मिनल, गेल के डोभी-दुर्गापुर प्राकृतिक गैस पाइपलाइन और एनएचएआई के चार लेन रोड  ओवरब्रिज सह फ्लाईओवर सहित तीन परियोजनाओं का उद्घाटन किया।

मुख्य बिंदु

इस अवसर पर बोलते हुए, प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गैस आधारित अर्थव्यवस्था देश के लिए समय की आवश्यकता है। उन्होंने कहा, इस जरूरत को पूरा करने के लिए एक राष्ट्र-एक गैस ग्रिड एक महत्वपूर्ण कदम है। प्रधानमंत्री ने कहा की इसे प्राप्त करने के लिए, प्राकृतिक गैस की लागत को कम करने और गैस-पाइपलाइन नेटवर्क के विस्तार पर ध्यान केंद्रित किया गया है। श्री मोदी ने कहा, भारत सबसे अधिक गैस खपत करने वाले देशों में से है। उन्होंने कहा, सस्ते और स्वच्छ ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए बजट में हाइड्रोजन मिशन की घोषणा की गई है।
प्रधानमंत्री ने देश के पूर्वी भाग में जीवन और व्यवसाय की गुणवत्ता में सुधार के लिए रेल, सड़क, हवाई अड्डे, बंदरगाहों और जलमार्गों में चल रहे कार्यों को सूचीबद्ध किया।

347 किलोमीटर का डोभी-दुर्गापुर प्राकृतिक गैस पाइपलाइन खंड, जो प्रधानमंत्री उर्जा गंगा परियोजना का एक हिस्सा है, का सीधे तौर पर न केवल पश्चिम बंगाल बल्कि बिहार और झारखंड के 10 जिलों को भी लाभ होगा। इसके निर्माण कार्य ने स्थानीय लोगों को 11 लाख मानव दिवस रोजगार प्राप्त हुआ है। यह रसोईघरों को स्वच्छ पाइप एलपीजी प्रदान करेगा और स्वच्छ सीएनजी वाहनों को सक्षम करेगा। सिंदरी और दुर्गापुर उर्वरक कारखानों को निरंतर गैस की आपूर्ति मिलेगी।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments