पीएम मोदी ने ‘मैत्री सेतु’ का उद्घाटन किया

भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 9 मार्च, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भारत और बांग्लादेश के बीच ‘मैत्री सेतु’ का उद्घाटन किया। वह इस अवसर पर उन्होंने त्रिपुरा में कई बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी किया।

‘मैत्री सेतु’

‘मैत्री सेतु’ एक पुल है जिसे फेनी नदी पर बनाया गया है। फेनी नदी त्रिपुरा राज्य और बांग्लादेश के बीच बहती है। दोनों देशों के बीच बढ़ते द्विपक्षीय संबंधों और मैत्रीपूर्ण संबंधों के प्रतीक के लिए ‘मैत्री सेतु’ नाम को चुना गया है। इस पुल का निर्माण “राष्ट्रीय राजमार्ग और बुनियादी ढांचा विकास निगम लिमिटेड” द्वारा किया गया था। इस पुल परियोजना की कुल लागत 133 करोड़ रुपये है। यह 1.9 किलोमीटर लंबा पुल है जो भारत में सबरूम को बांग्लादेश के रामगढ़ से जोड़ता है।

पुल का महत्व

इस पुल के उद्घाटन से देशों के बीच व्यापार और लोगों की आवाजाही के लिए एक नया अध्याय स्थापित होगा। इस पुल के संचालन के बाद, बांग्लादेश में चटगांव बंदरगाह तक पहुंच के साथ त्रिपुरा ‘गेटवे ऑफ नॉर्थ ईस्ट’ बन जाएगा। यह बंदरगाह सबरूम से 80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

सबरूम में चेक पोस्ट

प्रधानमंत्री मोदी इस अवसर पर “सबरूम में एकीकृत चेक पोस्ट” स्थापित करने के लिए आधारशिला भी रखेंगे। इस चेक पोस्ट से भारत और बांग्लादेश के बीच माल और यात्रियों की आवाजाही को आसान बनाने में मदद मिलेगी। यह भारत के उत्तर पूर्वी राज्यों के उत्पादों के लिए नए बाजार के अवसर भी प्रदान करेगा। यह चेक पोस्ट दोनों देशों के यात्रियों की निर्बाध आवाजाही में भी सहायता करेगा। इस परियोजना का कार्य “लैंड पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया” द्वारा किया जाएगा। इस परियोजना की अनुमानित लागत 232 करोड़ रुपये है।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments