पीएम मोदी ‘Indian Space Association’ लॉन्च करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, 11 अक्टूबर, 2021 को ‘इंडियन स्पेस एसोसिएशन’ (ISpA) को डिजिटल रूप से लॉन्च करेंगे।

मुख्य बिंदु 

  • इंडियन स्पेस एसोसिएशन (ISpA) अंतरिक्ष और उपग्रह कंपनियों का प्रमुख उद्योग संघ है।
  • ISpA का प्रतिनिधित्व प्रमुख घरेलू और वैश्विक निगमों द्वारा किया जाता है जिनके पास अंतरिक्ष और उपग्रह प्रौद्योगिकियों में उन्नत क्षमताएं हैं।
  • ISpA के संस्थापक सदस्यों में नेल्को (टाटा समूह), भारती एयरटेल, लार्सन एंड टुब्रो, मैपमायइंडिया, वनवेब, वालचंदनगर इंडस्ट्रीज और अनंत टेक्नोलॉजी लिमिटेड शामिल हैं।
  • मुख्य सदस्यों में BEL, गोदरेज, ह्यूजेस इंडिया, सेंटम इलेक्ट्रॉनिक्स, एज़िस्टा-BST एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड और मैक्सार इंडिया शामिल हैं।

ISpA का कार्य

प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण के अनुरूप, ISpA भारतीय अंतरिक्ष उद्योग की सामूहिक आवाज बनने की आकांक्षा रखता है। यह भारतीय अंतरिक्ष क्षेत्र के सभी हितधारकों के साथ जुड़ेगा। यह भारत को आत्मनिर्भर, तकनीकी रूप से उन्नत और अंतरिक्ष क्षेत्र में एक अग्रणी खिलाड़ी बनाने के लिए सरकार और उसकी एजेंसियों के साथ भी जुड़ेगा।

भारत का अंतरिक्ष उद्योग

भारत का अंतरिक्ष उद्योग भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा संचालित है। अंतरिक्ष उद्योग में अंतरिक्ष विभाग के 500 से अधिक निजी आपूर्तिकर्ता और अन्य विभिन्न निकाय शामिल हैं। भारत में अंतिरक्ष क्षेत्र में अपेक्षाकृत कम स्वतंत्र निजी एजेंसियां ​​हैं। हालांकि, 21वीं सदी के बाद से निजी क्षेत्र एक बढ़ी हुई भूमिका प्राप्त कर रहा है। भारत के अंतरिक्ष उद्योग ने 2019 में $7 बिलियन का योगदान दिया जो कि दुनिया के अंतरिक्ष उद्योग का 2% है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments