पेंसिल लेड का उपयोग करके नया कोविड टेस्ट विकसित किया गया

अमेरिका में पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने एक नया सस्ता, तेज और अधिक सटीक कोविड नैदानिक ​​परीक्षण (diagnostic test) विकसित किया है जो SARS CoV-2 वायरस का परीक्षण करने के लिए ग्रेफाइट से बने इलेक्ट्रोड का उपयोग करता है। यह पेंसिल लेड में पाया जाने वाला पदार्थ है।

मुख्य बिंदु 

  • शोधकर्ताओं ने इस बात पर प्रकाश डाला कि, ग्रेफाइट इलेक्ट्रोड के उपयोग से परीक्षण की लागत $ 1.50 प्रति परीक्षण कम हो जाती है।

ग्रेफाइट (Graphite)

ग्रेफाइट तत्व कार्बन का एक क्रिस्टलीय रूप है। ग्रेफाइट में कार्बन के परमाणु षट्कोणीय संरचना में व्यवस्थित होते हैं। ग्रेफाइट को प्लंबैगो (plumbago) भी कहा जाता है। यह प्राकृतिक रूप से केवल इसी रूप में होता है और इसे मानक परिस्थितियों में कार्बन का सबसे स्थिर रूप माना जाता है।

ग्रेफाइट की विशेषताएं

  • ग्रेफाइट उच्च दबाव और तापमान में हीरे में परिवर्तित हो जाता है।
  • इसका उपयोग पेंसिल और स्नेहक (lubricants) में किया जाता है।
  • यह गर्मी और बिजली का अच्छा संवाहक (conductor) है।
  • इसकी उच्च चालकता इसे इलेक्ट्रोड, बैटरी और सौर पैनल जैसे इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों के लिए उपयुक्त बनाती है।

ग्रेफाइट के प्रकार

प्राकृतिक ग्रेफाइट के प्रमुख प्रकार हैं:

  1. ग्रेफाइट के क्रिस्टलीय छोटे गुच्छे – यह प्राकृतिक रूप से एक पृथक, सपाट, प्लेट जैसे कण के रूप में होता है।
  2. अनाकार ग्रेफाइट – महीन परत वाले ग्रेफाइट को अनाकार ग्रेफाइट कहा जाता है।
  3. गांठ ग्रेफाइट – इसे वेन ग्रेफाइट भी कहा जाता है।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments