पेन्पा त्सेरिंग बने निर्वासित तिब्बती सरकार के राष्ट्रपति

हाल ही में पेन्पा त्सेरिंग ने निर्वासित तिब्बती सरकार के राष्ट्रपति बने। निर्वासित तिब्बती सरकार के राष्ट्रपति को सिक्योंग (Sikyong) कहा जाता है। पेन्पा त्सेरिंग निर्वासित तिब्बती सरकार के मुख्यालय धर्मशाला में शपथ ली। राष्ट्रपति के रूप में उन्होंने लोबसंग सांगे के जगह ली है।

पेन्पा त्सेरिंग (Penpa Tsering)

पेन्पा त्सेरिंग एक तिब्बती राजनेता हैं। उनका जन्म 1967 में कर्नाटक में हुआ था। उन्होंने मद्रास क्रिस्चियन कॉलेज से पानी पढ़ाई पूरी की। पेन्पा त्सेरिंग को 1996  से 2006 तक Parliament of the Central Tibetan Administration (CTA) के लिए दो बार चुना गया। वे 2016 के सिक्योंग चुनाव में रनर-अप रहे थे।

Central Tibetan Administration

Central Tibetan Administration तिब्बत की निर्वाचित संसदीय सरकार है, जो हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में बेस्ड है। इसकी स्थापना 28 अप्रैल, 1959 को हुई थी। इसकी एक न्यायायिक शाखा, विधायी शाखा और कार्यकारी शाखा है।

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments