बर्ड फ्लू के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए भारत सरकार ने नियंत्रण कक्ष स्थापित किया

पशुपालन विभाग ने राजस्थान, मध्य प्रदेश, केरल और हिमाचल प्रदेश में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है।

मुख्य बिंदु 

यह नियंत्रण कक्ष स्थिति की समीक्षा करेगा और संबंधित राज्य सरकारों द्वारा किए गए निवारक और नियंत्रण उपायों की दैनिक आधार पर समीक्षा करेगा। यह नियंत्रण कक्ष एवियन इन्फ्लुएंजा की राष्ट्रीय कार्य योजना का भी पालन करेगा।

एवियन इन्फ्लुएंजा की राष्ट्रीय कार्य योजना (National Action Plan of Avian Influenza)

एवियन इन्फ्लुएंजा पर राष्ट्रीय कार्य योजना में निम्नलिखित प्रभाग शामिल हैं:

  • एवियन इन्फ्लुएंजा के प्रकोप के खिलाफ तैयारियों पर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सलाह।
  • इस कार्य योजना का दूसरा भाग एवियन इन्फ्लुएंजा के प्रकोप का संदेह होने पर किए जाने वाले कार्यों को वर्णन करता है।
  • तीसरा भाग रोग के प्रकोप के दौरान होने वाली क्रियाओं का वर्णन करता है।
  • चौथा भाग उन व्यक्तियों की पहचान करता है जो एवियन इन्फ्लुएंजा संक्रमित मुर्गी पालन करेंगे। देगा।

एवियन इन्फ्लुएंजा वायरस के विभिन्न प्रकार क्या हैं?

इन्फ्लुएंजा वायरस को टाइप ए, बी और सी में बांटा गया है। टाइप ए इन्फ्लुएंजा वायरस को केवल जानवरों को संक्रमित करने के लिए जाना जाता है और यह जूनोटिक है। इसका मतलब है कि टाइप ए इंसानों को भी संक्रमित कर सकता है। एवियन इन्फ्लुएंजा के उप-प्रकार H5N1, H7N9 और H9N2 हैं।

GISRS क्या है?

यह विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा 1952 में (Global Influenza Surveillance and Response System) को लांच किया गया था। यह दुनिया में मौसमी रुझानों और संभावित महामारी इन्फ्लुएंजा की निगरानी करता है। यह इन्फ्लुएंजा के लिए ग्लोबल अलर्ट सिस्टम की रीढ़ है।

वैश्विक इन्फ्लुएंजा रणनीति (Global Influenza Strategy)

यह विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा 2019-2030 के लिए लॉन्च किया गया था। इसका उद्देश्य मौसमी इन्फ्लूएंजा को रोकना और जानवरों से मनुष्यों में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करना है।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments