बी.वी. दोशी (B.V. Doshi) ने जीता रॉयल गोल्ड मेडल 2022

बालकृष्ण विट्ठलदास दोशी को प्रतिष्ठित रॉयल गोल्ड मेडल 2022 से सम्मानित किया गया है। इस पुरस्कार को दुनिया के सर्वोच्च सम्मानों में से एक कहा जाता है जो वास्तुकला (architecture) के क्षेत्र में प्राप्त किया जा सकता है।

बी.वी. दोशी को यह पुरस्कार किसने प्रदान किया?

साइमन ऑलफोर्ड, जो रॉयल इंस्टीट्यूट ऑफ ब्रिटिश आर्किटेक्ट्स (RIBA) के अध्यक्ष हैं, ने बीवी दोशी को अहमदाबाद, गुजरात में उनके आवास पर यह पुरस्कार प्रदान किया।

यह पदक क्यों दिया जाता है?

यह पुरस्कार एक व्यक्ति के जीवन भर के काम को सम्मानित करने के लिए प्रस्तुत किया जाता है जिसका वास्तुकला के क्षेत्र को आगे बढ़ाने पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ा है। यूनाइटेड किंगडम की महारानी एलिजाबेथ व्यक्तिगत रूप से इस प्रतिष्ठित पदक को मंजूरी देती हैं।

बी.वी. दोशी की कुछ प्रसिद्ध कृतियाँ क्या हैं?

उन्होंने 100 परियोजनाओं पर काम किया है जिसमें शैक्षिक सुविधाएं, सांस्कृतिक भवन, आवास विकास आदि शामिल हैं। उनकी कुछ महत्वपूर्ण परियोजनाओं में शामिल हैं:

  • भारतीय प्रबंधन संस्थान, बैंगलोर
  • अहमदाबाद स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर
  • अरण्य लो-कॉस्ट हाउसिंग
  • भारतीय प्रबंधन संस्थान, उदयपुर
  • टैगोर हॉल और मेमोरियल थियेटर, अहमदाबाद
  • निफ्ट दिल्ली

उन्हें प्रित्ज़कर आर्किटेक्चर पुरस्कार किस वर्ष मिला था?

वर्ष 2018 में, वह प्रित्ज़कर आर्किटेक्चर पुरस्कार से सम्मानित होने वाले पहले भारतीय बने। इस पुरस्कार को वास्तुकला का नोबल पुरस्कार कहा जाता है। रॉयल गोल्ड मेडल प्राप्त करने के बाद, वह दोनों पुरस्कार प्राप्त करने वाले पहले भारतीय बन गये हैं।

बी.वी. दोशी को पद्म भूषण से कब सम्मानित किया गया था?

उन्हें वर्ष 2020 में भारत की केंद्र सरकार द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। यह देश का तीसरा सबसे बड़ा नागरिक पुरस्कार है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments