बोरिस जॉनसन पीएम मोदी को G7 समिट 2021 में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया

हाल ही में  यूनाइटेड किंगडम के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने 2021 में G7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित किया है।

मुख्य बिंदु

इससे पहले बोरिस जॉनसन गणतंत्र दिवस 2021 में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करने वाले थे, लेकिन यूके में कोविड-19 के बिगड़ते हालात के कारण उन्होंने अपनी यात्रा को स्थगित कर दिया है। हालांकि बोरिस जॉनसन ने स्पष्ट किया है कि वे G7 शिखर सम्मेलन से पहले भारत की यात्रा पर आयेंगे।

G7 शिखर सम्मेलन 2021  को ‘D10’ कहा जा रहा है। D10 दस लोकतांत्रिक देशों को दर्शाता है।

G7 शिखर सम्मेलन 2021

G7 समूह इस वर्ष विस्तार करने जा रहा है। G7 समूह में दुनिया भर से दस लोकतान्त्रिक देश शामिल होंगे। हालांकि, अमेरिका ने 2021 के शिखर सम्मेलन को ‘G7 + 4’ के रूप में बुलाने का प्रस्ताव दिया था। लेकिन यूके इस शिखर सम्मेलन को G7 + 3 के रूप में व्यवस्थित करना चाहता है और ब्रिटेन ने इसे D10 के रूप में प्रस्तावित किया है। D10 में रूस को छोड़कर दस लोकतान्त्रिक देश शामिल हैं। इस साल, ब्रिटेन ने लोकतान्त्रिक देशों का एक नया गठबंधन बनाने का प्रस्ताव दिया है। इसने नए गठबंधन में भारत, दक्षिण कोरिया और ऑस्ट्रेलिया को G7 राष्ट्रों के साथ शामिल करने का प्रस्ताव दिया है।

भारत-यूके सम्बन्ध

G7 2021 मेजबान, यूके, भारत के साथ अपनी आर्थिक साझेदारी को गहरा करना चाहता है। ब्रिटिश विदेश सचिव ने एक मजबूत रक्षा प्रणाली के निर्माण के लिए यूनाइटेड किंगडम की प्रतिबद्धता पर प्रकाश डाला। यह भारत के साथ सुरक्षा साझेदारी को भी मजबूत करना चाहता है। इस साझेदारी से दोनों देशों को हिंद महासागर के पश्चिमी हिस्से में आतंकवाद और गोपनीयता जैसी सामान्य चिंताओं से निपटने में मदद मिलेगी।

G-7

G7 एक अंतर सरकारी संगठन है। इसका गठन अंतरराष्ट्रीय आर्थिक और मौद्रिक मुद्दों को संबोधित करने के लिए किया गया है। इस समूह में अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, फ्रांस, इटली, जर्मनी और जापान शामिल हैं। इससे पहले इस समूह को G-8 कहा जाता था जिसमें रूस भी शामिल था। 2014 में क्रीमिया पर कब्ज़ा करने के बाद रूस को इस समूह से निलंबित कर दिया गया था।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments