ब्रिक्स विदेश मंत्रियों ने की वर्चुअल बैठक आयोजित की गयी

ब्रिक्स के विदेश मंत्रियों की बैठक  वर्चुअली 1 जून, 2021 को आयोजित की गयी।

बैठक का एजेंडा

  • मंत्रियों की इस बैठक के दौरान, विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने उन महत्वपूर्ण सिद्धांतों पर प्रकाश डाला जो ब्रिक्स का मार्गदर्शन करते हैं।
  • उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय कानून और संयुक्त राष्ट्र चार्टर का भी उल्लेख किया जो सभी देशों की संप्रभु समानता को मान्यता देता है और क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करता है।
  • उनके अनुसार, इन सिद्धांतों के अनुरूप नीतियों के संचालन से ही वांछित परिवर्तन प्राप्त किया जा सकता है।

बैठक की मेजबानी किसने की?

ब्रिक्स बैठक की मेजबानी ब्रिक्स के अध्यक्ष के रूप में भारत ने की थी। इसमें रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव (Sergey Lavrov); चीन के विदेश मंत्री वांग यी (Wang Yi);  दक्षिण अफ्रीका के अंतर्राष्ट्रीय संबंध मंत्री, ग्रेस नलेदी मंडिसा पंडोर (Grace Naledi Mandisa Pandor); और ब्राजील के विदेश मंत्री कार्लोस अल्बर्टो फ्रेंको (Carlos Alberto Franco) ने भाग लिया।

बैठक का महत्व

ब्रिक्स के विदेश मंत्री पहली बार, “बहुपक्षीय प्रणाली में सुधार” के सामान्य लक्ष्य पर सहमत हुए हैं। वे इस बात पर भी सहमत हुए कि इस तरह के सुधार में सभी प्रमुख बहुपक्षीय संस्थानों को शामिल किया जाना चाहिए, जिनमें शामिल हैं-

  • संयुक्त राष्ट्र और उसके प्रमुख अंग जैसे संयुक्त राष्ट्र महासभा, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद आदि।
  • अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संरचना जैसे IMF और विश्व बैंक
  • बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली जैसे विश्व व्यापार संगठन और UNCTAD
  • WHO के साथ वैश्विक स्वास्थ्य शासन प्रणाली।

ब्रिक्स मंत्री संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार के संबंध में चर्चा में नया जीवन लाने पर सहमत हुए।

Tags: , , , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments