भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (IISF) 2020 का समापन हुआ

25 दिसम्बर, 2020 को भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (IISF) 2020 का समापन हुआ। इस मौके पर उप-राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने संबोधन दिया।

इससे पहले 22 दिसम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने  भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (India International Science Festival-IISF) 2020 का उद्घाटन किया था। प्रधानमंत्री ने विडियो कांफ्रेंस के माध्यम से इस इवेंट को संबोधित किया था।

थीम : आत्मनिर्भर भारत और वैश्विक कल्याण के लिए विज्ञान

मुख्य बिंदु

दरअसल 22 दिसम्बर को महान गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन का जन्म दिवस है, इस दिन से भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव की शुरुआत हुई थी। इस महोत्सव का समापन 25 दिसम्बर को हुआ, 25 दिसम्बर को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म दिवस है।

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (India International Science Festival)

यह विज्ञान और प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देने के लिए एक उत्सव है। यह बताता है कि विज्ञान किस तरह से कम समय में भारत को विकास की ओर ले जा सकता है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने विज्ञान भारती के साथ मिलकर उत्सुकता को प्रेरित करने और सीखने को और अधिक फायदेमंद बनाने के लिए एक अनूठा मंच बनाया है।

महत्व

किसी भी देश में विज्ञान और प्रौद्योगिकी के महत्व को व्यक्त करने के लिए विज्ञान उत्सव और प्रचार कार्यक्रम महत्वपूर्ण हैं। यह आविष्कारकों, वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं को नागरिकों और छात्रों के साथ निकटता से बातचीत करने का मौका प्रदान करता है।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments