भारतीय नौसेना को जल्द ही अमेरिका से मिलेंगे 3 MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर

भारतीय नौसेना जुलाई 2021 में अमेरिका से 24 MH-60 रोमियो मल्टीरोल हेलीकॉप्टरों में से तीन प्राप्त करेगी।

पृष्ठभूमि

भारत और अमेरिका ने लॉकहीड मार्टिन से 24 MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए फरवरी 2020 में 2.4 बिलियन डॉलर के सौदे पर हस्ताक्षर किए थे।

मुख्य बिंदु

भारतीय पायलटों का पहला बैच हेलीकॉप्टरों के प्रशिक्षण के लिए अमेरिका पहुंच गया है। पायलटों को पहले फ्लोरिडा के पेंसाकोला और फिर कैलिफोर्निया के सैन डिएगो में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

MH-60 रोमियो (MH-60 Romeo)

MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टरों को एयरक्राफ्ट कैरियर, क्रूजर, फ्रिगेट और डिस्ट्रॉयर से संचालित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह मल्टी-मोड रडार और नाइट विजन उपकरणों से लैस होगा। वे हेलफायर मिसाइलों, सटीक-निर्देशित हथियारों और टॉरपीडो से लैस होंगे। ये हेलीकॉप्टर जहाजों, पनडुब्बियों को निशाना बनाने और समुद्र में खोज और बचाव अभियान चलाने के लिए बनाए गए हैं। यह सी किंग्स (Sea Kings) की जगह लेगा।

ALH MK- III

रोमियो के अलावा, भारतीय नौसेना ने ALH MK-III नामक स्वदेशी रूप से निर्मित उन्नत हल्के हेलीकॉप्टरों को भी शामिल किया। इन हेलीकॉप्टरों का इस्तेमाल तटीय सुरक्षा और समुद्री टोही सुनिश्चित करने के लिए किया जाएगा। यह हेलीकॉप्टर सरकारी कंपनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड द्वारा बनाए गए हैं और इलेक्ट्रो-ऑप्टिकल उपकरण और आधुनिक निगरानी रडार से लैस हैं। इस प्रकार, वे लंबी दूरी की खोज और बचाव के लिए बेहद उपयोगी सिद्ध होंगे। वे एक भारी मशीनगन से भी लैस हैं।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments