भारतीय रिजर्व बैंक ने किया Regulations Review Authority 2.0 का गठन

भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल ही में विनियम समीक्षा प्राधिकरण (Regulations Review Authority) 2.0 की स्थापना की। यह प्राधिकरण एक वर्ष की अवधि के लिए कार्य करेगा।

Regulations Review Authority 2.0 के कार्य

  • RRA नियामक पर्चे (regulatory prescriptions) की आंतरिक रूप से समीक्षा करेगा।
  • यह विनियमित संस्थाओं और हितधारकों से सुझाव मांगकर नियामक पर्चे की समीक्षा भी करेगा।
  • यह नियामक पर्चे के कार्यान्वयन को आसान बनाने की दिशा में काम करेगा।
  • डिप्टी गवर्नर राजेश्वर राव को RRA के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया है।
  • RRA विनियमित संस्थाओं पर अनुपालन बोझ को कम करने में काम करेगा।
  • RRA प्रक्रियाओं के सरलीकरण और अनुपालन की आसानी को बढ़ाने पर विनियमित संस्थाओं से भी प्रतिक्रिया प्राप्त करेगा।

RBI के डिप्टी गवर्नर

  • आरबीआई में एक गवर्नर, चार डिप्टी गवर्नर, दो वित्त मंत्रालय के प्रतिनिधिय और चार निदेशक होते हैं।
  • RBI की अवधारणा डॉ. अम्बेडकर द्वारा अपनी पुस्तक “The Problem of the Rupee” में तैयार की गई रणनीतियों पर आधारित थी।

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI)

  • भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के प्रावधानों के अनुसार 1 अप्रैल 1935 को भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना हुई थी। शुरू में रिज़र्व बैंक का केंद्रीय कार्यालय कोलकाता में स्थापित किया गया था लेकिन 1937 में स्थायी रूप से इसे मुंबई में हस्तांतरित कर दिया गया था। केंद्रीय कार्यालय वह स्थान है, जहां गवर्नर बैठता है तथा जहां नीतियां तैयार की जाती हैं। 1949 मे राष्ट्रीयकरण के बाद से रिज़र्व बैंक पूरी तरह से भारत सरकार के स्वामित्व में है।

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments