भारत और ताजिकिस्तान ने आर्थिक साझेदारी को और बढ़ाने पर सहमती ज़ाहिर की

विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर ने विकास सहयोग सहित द्विपक्षीय एजेंडा के सभी पहलुओं पर दुशांबे में अपने ताजिक समकक्ष सिरोजिद्दीन मुहरिद्दीन (Sirojiddin Muhriddin) के साथ बातचीत की। उन्होंने क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान भी किया। दोनों नेता आर्थिक साझेदारी को और बढ़ाने पर फोकस करने पर भी सहमत हुए।

मुख्य बिंदु

डॉ. जयशंकर ने कहा कि द्विपक्षीय रणनीतिक संबंध पिछले वर्षों में विकसित और विस्तारित हुए हैं, और आर्थिक सहयोग को और अधिक मजबूत करने की क्षमता है। उन्होंने कहा कि दोनों देश व्यापारिक समुदाय, चैम्बर और व्यापार निकायों को एक-दूसरे के साथ अधिक गहनता से जुड़ने के लिए प्रोत्साहित करेंगे, जबकि सरकारें एक सुगम भूमिका निभाती रहेंगी। उन्होंने कहा, विकास सहयोग भी भारत-ताजिकिस्तान द्विपक्षीय संबंधों का एक महत्वपूर्ण स्तंभ बन गया है। डॉ. जयशंकर ने कहा की भारतीय अनुदान सहायता के तहत ताजिकिस्तान में पिछले कुछ वर्षों से कई परियोजनाओं को सफलतापूर्वक कमीशन किया गया है।

ताजिकिस्तान की अपनी तीन दिवसीय यात्रा के अंतिम दिन, विदेश मंत्री ने स्पीकर ज़ोकिर्ज़ोदा महमदतोहीर ज़ॉयर (Zokirzoda Mahmadtohir Zoir) से मुलाकात की और भारत-ताजिक सहयोग के लिए मजबूत संसदीय समर्थन की सराहना की।

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments