भारत और फ्रांस डेजर्ट नाइट 21 सैन्य अभ्यास का आयोजन करेंगे

भारत और फ्रांस डेजर्ट नाइट 21 अभ्यास आयोजित करेंगे। यह भारतीय वायु सेना और फ्रांसीसी वायु और अंतरिक्ष बल के बीच होने वाला एक द्विपक्षीय हवाई अभ्यास है।  डेजर्ट नाइट 21 अभ्यास का आयोजन राजस्थान के जोधपुर में किया जायेगा। इस अभ्यास में राफेल फाइटर जेट्स भी भाग लेंगे।

पृष्ठभूमि

भारत-फ्रांसीसी रक्षा सहयोग के तहत, फ्रांसीसी वायु व अंतरिक्ष बल और भारतीय वायु सेना ने अब तक “गरुड़” नामक हवाई अभ्यास के छह संस्करण आयोजित किए हैं। इन छह अभ्यासों में से आखिरी अभ्यास 2019 में एयर फोर्स बेस मोंट-डे-मार्सैन, फ्रांस में आयोजित किया गया था।

डेजर्ट नाइट 21 अभ्यास

इस अभ्यास का मुख्य उद्देश्य परिचालन जोखिम प्रदान करना और सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करना है। इस अभ्यास में फ्रांसीसी वायु और अंतरिक्ष बल की ओर से राफेल लड़ाकू जेट, मल्टी-रोल टैंकर ट्रांसपोर्ट और लगभग 175 कर्मचारी भाग लेंगे। भारतीय वायु सेना से Su-30 MKI, मिराज 2000 और IL-78 विमान इस अभ्यास में हिस्सा लेंगे।

रक्षा अभ्यास

भारत और फ्रांस के बीच आयोजित नियमित रक्षा अभ्यास इस प्रकार हैं:

  • शक्ति अभ्यास भारत और फ्रांस की सेनाओं के बीच आयोजित किया जाता है।
  • वरुण अभ्यास भारतीय नौसेना और फ्रांसीसी नौसेना बलों के बीच आयोजित किया जाता है।
  • गरूड़ अभ्यास दोनों देशों की वायु सेनाओं के बीच आयोजित किया जाता है।

भारत-फ्रांस

भारत-फ्रांस रणनीतिक साझेदारी के तीन मुख्य स्तंभ अंतरिक्ष, रक्षा और असैन्य परमाणु सहयोग हैं। फ्रांस संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता का निरंतर समर्थन कर रहा है। मिसाइल टेक्नोलॉजी कंट्रोल रिजीम, वासेनार अरेंजमेंट, ऑस्ट्रेलिया ग्रुप और न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप में फ्रांस सदस्यता के लिए भारत का बहुत बड़ा समर्थक है।

भारत 42वें सदस्य के रूप में वासेनार अरेंजमेंट में शामिल हुआ था। इसके अलावा, भारत 2018 में मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था में शामिल हुआ था। एनएसजी में भारत के प्रवेश का व्यापक रूप से विरोध किया जा रहा है क्योंकि भारत परमाणु अप्रसार संधि का हस्ताक्षरकर्ता नहीं है ।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments