भारत और रूस की नौसेना ने PASSEX अभ्यास का आयोजन किया 

भारतीय नौसेना  और रूसी नौसेना ने 4-5 दिसंबर 2020 को  तक पूर्वी हिंद महासागर क्षेत्र में PASSEX अभ्यास का आयोजन किया। इस अभ्यास में रूसी नौसेना के गाइडेड मिसाइल क्रूजर वरयाग, एंटी-शिप पोत एडमिरल  पांतेलेयेव और मीडियम ओशन टैंकर पेचेंगा ने हिस्सा लिया। जबकि भारतीय नौसेना की ओर से इस अभ्यास में  गाइडेड मिसाइल फ्रिगेट शिवालिक और पनडुब्बी रोधी कार्वेट   कद्मत्त और हेलीकाप्टरों ने हिस्सा लिया।

मुख्य बिंदु

इस अभ्यास का उद्देश्य इंटर-ओपेराबिलिटी को बढ़ावा देना है। इसके अलावा इस अभ्यास का उद्देश्य दोनों नौसेनाओं के बीच सर्वोत्तम प्रथाओं को समझना और उनमें सुधार लाना है। इस अभ्यास में एडवांस्ड सतह और पनडुब्बी-रोधी युद्ध अभ्यास, वेपन फायरिंग, सीमैनशिप अभ्यास और हेलीकाप्टर संचालन शामिल है।

PASSEX एक Passage Exercise है। भारतीय नौसेना मित्र देशों के साथ इस प्रकार के अभ्यास नियमित रूप से करती है। इसी वर्ष भारत ने अमेरिकी नौसेना के साथी भी PASSEX अभ्यास में भाग लिया था। यह PASSEX अभ्यास भारत-रूस रक्षा संबंधों को मजबूत करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। दोनों नौसेनाओं के बीच नियमित अभ्यासों के माध्यम से पारस्परिक सम्बन्ध मज़बूत हुए हैं । भारत और रूस की नौसेना के बीच ‘इंद्रा’ अभ्यास भी किया जाता है, हाल ही में यह अभ्यास अंतिम हिंद महासागर क्षेत्र में 4-5 सितंबर 2020 को आयोजित किया गया था।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments