भारत ने अप्रैल और मई में 3 लाख मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन किया : धर्मेन्द्र प्रधान

केन्द्रीय मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान ने हाल ही में कहा कि भारत ने अप्रैल और मई, 2021 में 3 लाख मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन किया। गौरतलब है कि इस 3 लाख मीट्रिक टन में 2 लाख मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन केवल स्टील प्लांट्स और पेट्रोलियम रिफाइनरीज से ही किया गया है।

मुख्य बिंदु

पिछले दो महीनों में ओडिशा में स्टील अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (SAIL) के तहत रोउरकेला स्टील प्लांट (Rourkela Steel Plant) ने 17,000 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन किया है। जबकि ओडिशा में टाटा और जिंदल के अन्य स्टील प्लांट्स ने लगभग 38,000 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन किया। अन्य राज्यों को ऑक्सीजन आपूर्ति करने के मामले में ओडिशा अग्रणी राज्य रहा है।

पृष्ठभूमि

भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर के प्रभाव के कारण देश में ऑक्सीजन के किल्लत हो गयी थी। जिसके परिणाम स्वरुप स्टील उद्योगों समेत कई उद्योगों ने अपने औद्योगिक कार्य को रोक कर केवल ऑक्सीजन का उत्पादन किया और उसे अस्पतालों तक पहुँचाया।

रेल मंत्रालय के अनुसार ऑक्सीजन एक्सप्रेस (Oxygen Express) ट्रेनों ने देश भर में 25,000 मीट्रिक टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचाई है। यह ऑक्सीजन 1503 टैंकरों से पहुंचाई गई है। देश में मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए रेलवे ने ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ की शुरुआत की थी।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments