भारत ने जयनगर-कुर्था रेल लिंक (Jaynagar-Kurtha Rail Link) नेपाल को सौंपा

भारत ने नेपाल सरकार को 34.9 किलोमीटर लंबी सीमा पार रेल लिंक सौंपा, जो बिहार में जयनगर को नेपाल में कुर्था से जोड़ता है।

मुख्य बिंदु

यह समारोह 22 अक्टूबर, 2021 को नेपाल में भारतीय राजदूत विनय एम. क्वात्रा और नेपाल के भौतिक अवसंरचना और परिवहन मंत्री रेणु कुमारी यादव की उपस्थिति में हुआ।

जयनगर-कुर्था खंड

रेल लिंक का जयनगर-कुर्ता खंड 68.7 किमी जयनगर-बिजलपुरा-बरदीदास रेल लिंक का हिस्सा है। यह भारत सरकार के अनुदान सहायता कार्यक्रम के तहत बनाया गया है। भारत की अनुदान सहायता के तहत 34.9 किमी नैरो गेज का गेज परिवर्तन का कार्य पूरा कर लिया गया है। यह परियोजना 619 करोड़ रुपये की लागत से पूरी हुई है। नेपाल में जनकपुर के पास जयनगर, खजूरी, इनरवा, बैदेही और कुर्था नामक खंड में इसके पांच स्टेशन हैं। पूरी यात्रा के लिए अधिकतम किराया सामान्य श्रेणी के लिए 70 रुपये और एसी के लिए 300 रुपये होगा। ट्रेन 115 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी और 23 मिनट में दूरी तय करेगी।

रेल लिंक का महत्व

इस परिचालित क्रॉस-बॉर्डर रेल लिंक से व्यापार और वाणिज्य गतिविधियों में वृद्धि होने की संभावना है। यह दोनों देशों के बीच लोगों से लोगों के बीच जुड़ाव को भी बढ़ाएगा।

जयनगर 

यह बिहार के मधुबनी जिले का एक कस्बा और अधिसूचित क्षेत्र है। 2011 की जनगणना के अनुसार, जयनगर की जनसंख्या 1,77,556 थी। पुरुषों की आबादी 53% है जबकि महिलाओं की संख्या 47% है। इस शहर की औसत साक्षरता दर 58% है।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments