भारत सरकार ने राष्ट्रीय पर्यटन नीति (National Tourism Policy) का ड्राफ्ट तैयार किया

डिजिटल और हरित पर्यटन पर ध्यान केंद्रित करने के लिए भारत सरकार द्वारा मसौदा राष्ट्रीय पर्यटन नीति तैयार की गई है। इस नीति को अनुमोदन के लिए भेजे जाने से पहले इस नीति को राज्य सरकारों, उद्योग भागीदारों और अन्य संबद्ध मंत्रालयों को उनकी प्रतिक्रिया देने के लिए भेज दिया गया है।

मुख्य बिंदु 

इससे पहले, भारतीय पर्यटन मंत्रालय द्वारा ग्रामीण पर्यटन के विकास, चिकित्सा और कल्याण पर्यटन को बढ़ावा देने और बैठक, प्रोत्साहन, सम्मेलन और प्रदर्शनियों (Meetings, Incentives, Conferencing, and Exhibitions – MICE) उद्योग के विकास के लिए रोडमैप के साथ तीन मसौदा रणनीति तैयार की गई थी।

प्रमुख क्षेत्र जिन पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा

अगले 10 वर्षों में, डिजिटल पर्यटन, हरित पर्यटन, आतिथ्य क्षेत्र में कौशल, गंतव्य प्रबंधन और सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) से संबंधित पर्यटन का समर्थन करने के क्षेत्रों पर ध्यान दिया जाएगा।

पर्यटन उद्योग के लिए प्रदान किए गए राहत उपाय

पिछले दो वर्षों से इस उद्योग को सबसे अधिक नुकसान COVID-19 महामारी के कारण हुआ है। इसलिए, इस उद्योग को कराधान विराम (taxation breaks) जैसे राहत उपाय प्रदान करना अत्यंत आवश्यक है ताकि यह उद्योग एक बार फिर से फल-फूल सके।  इस नीति का समग्र उद्देश्य उन पर्यटकों के अनुभव में सुधार करना है जो इन पर्यटन स्थलों का दौरा करेंगे। इस क्षेत्र को बेहतर बनाने के लिए बुनियादी ढांचे के विकास पर भी ध्यान दिया जाएगा।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments