‘भूमि संवाद’ – DILRMP पर राष्ट्रीय कार्यशाला

ग्रामीण विकास मंत्रालय ने 16 नवंबर, 2021 को डिजिटल इंडिया भूमि रिकॉर्ड आधुनिकीकरण कार्यक्रम (Digital India Land Record Modernisation Programme -DILRMP) पर एक राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया।

मुख्य बिंदु

  • इस कार्यशाला का आयोजन राष्ट्रीय भूमि रिकॉर्ड आधुनिकीकरण कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए किया गया।
  • यह कार्यशाला राज्यों को क्षेत्र में एक दूसरे के साथ सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करने और नवीनतम सॉफ्टवेयर विकास के बारे में जानने में सक्षम बनाएगी।

इस कार्यशाला का उद्घाटन ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह ने किया. उन्होंने इस अवसर पर “राष्ट्रीय सामान्य दस्तावेज़ पंजीकरण प्रणाली (National Generic Document Registration System – NGDRS) पोर्टल और डैशबोर्ड भी लॉन्च किया।

राष्ट्रीय सामान्य दस्तावेज़ पंजीकरण प्रणाली (National Generic Document Registration System – NGDRS)

NGDRS पंजीकरण करने के लिए एक आंतरिक एडवांस्ड सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन है।

राष्ट्रीय भूमि प्रबंधन पुरस्कार-2021

राष्ट्रीय भूमि प्रबंधन पुरस्कार-2021 की शुरुआत भूमि संसाधन विभाग द्वारा राज्य सरकारों द्वारा किए गए अच्छे कार्यों की सराहना और प्रोत्साहन करने के लिए की गई थी। विभाग बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए भूमि अधिग्रहण के लिए सर्वोत्तम प्रथाओं के आधार पर राज्यों की राष्ट्रीय स्तर की रैंकिंग भी प्रदान करेगा।

विशिष्ट भूमि पार्सल पहचान संख्या (Unique Land Parcel Identification Numbers – ULPIN)

यूनिक लैंड पार्सल आइडेंटिफिकेशन नंबर (ULPIN) लैंड पार्सल के आधार नंबर की तरह है। इस अनूठी प्रणाली में पार्सल के भू-निर्देशांक के आधार पर एक विशिष्ट आईडी तैयार की जाएगी। भूखंडों को यूनिक आईडी दी जाती है। यह प्रणाली 13 राज्यों में लागू की गई है और अन्य 6 राज्यों में इसका प्रायोगिक परीक्षण किया गया है।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments