मलेशिया: राजनीतिक उथल-पुथल के बीच पीएम मुहिद्दीन यासीन ने इस्तीफा दिया

मलेशियाई प्रधानमंत्री मुहिद्दीन यासीन ने देश में राजनीतिक उथल-पुथल के बाद 16 अगस्त, 2021 को इस्तीफा दे दिया।

मुख्य बिंदु 

  • बहुमत खोने के बाद उन्होंने और उनके मंत्रिमंडल ने इस्तीफा दे दिया है।
  • उनका इस्तीफा अस्थिरता का एक और अध्याय खोलने जा रहा है क्योंकि वर्तमान में कोई भी स्पष्ट उत्तराधिकारी नहीं है।
  • उन्होंने 17 महीने के कार्यकाल के बाद पद से इस्तीफा दे दिया। इस प्रकार, यह मलेशियाई नेता का सबसे छोटा कार्यकाल है।
  • उनका इस्तीफा अर्थव्यवस्था को फिर से शुरू करने और कोविड संक्रमण के पुनरुत्थान (resurgence) को नियंत्रित करने के प्रयासों को भी प्रभावित करेगा।
  • मलेशिया की रिंगित करेंसी एक साल के निचले स्तर पर आ गई है और इसका शेयर बाजार भी फिसल गया है।

कार्यवाहक पीएम

दक्षिण पूर्व एशियाई राष्ट्र के राजा ने नए प्रधानमंत्री के चयन तक मुहीद्दीन को कार्यवाहक प्रधानमंत्री नियुक्त किया है। कोई समयरेखा निर्धारित नहीं की गई है। कार्यवाहक के रूप में उनके पास कोई कैबिनेट नहीं होगा। 

नए प्रधानमंत्री की नियुक्ति कैसे होगी?

किंग अल-सुल्तान अब्दुल्ला ने कोविड-19 महामारी के कारण चुनाव नहीं कराने का फैसला किया है। राजा एक प्रधानमंत्री नियुक्त करने के लिए अपनी संवैधानिक शक्ति का प्रयोग करेंगे।

मुहीद्दीन यासीन कौन हैं?

मुहिद्दीन एक अनुभवी राजनेता हैं जिन्होंने यूनाइटेड मलय नेशनल ऑर्गनाइजेशन (UMNO) के साथ अपना करियर शुरू किया था। उन्हें मार्च 2020 में एक राजनीतिक उथल-पुथल के बाद मलेशिया के प्रधान मत्री के रूप में नियुक्त किया गया था।

 

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments