मार्च 2021 को समाप्त वित्तीय वर्ष के दौरान डिजिटल भुगतान में 30.19% की वृद्धि हुई: RBI

RBI के आंकड़ों से पता चला है कि मार्च 2021 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष के दौरान भारत में डिजिटल भुगतान में 30.19% की वृद्धि दर्ज की गई है।

मुख्य बिंदु 

  • नवगठित डिजिटल भुगतान सूचकांक (Digital Payments Index – RBI-DPI) ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि मार्च 2021 के अंत में, सूचकांक पिछले वर्ष के 207.84 से बढ़कर 270.59 हो गया है।

डिजिटल भुगतान सूचकांक (RBI-DPI) 

भारतीय रिज़र्व बैंक ने देश के डिजिटल भुगतान डेटा के अवलोकन के लिए एक समग्र भारतीय रिज़र्व बैंक – डिजिटल भुगतान सूचकांक (RBI-DPI) के निर्माण की घोषणा की थी। मार्च 2018 को डिजिटलाइजेशन डेटा प्राप्त करने के लिए आधार वर्ष के रूप में चुना गया था।

RBI-DPI के पैरामीटर्स

RBI-DPI  में पांच पैरामीटर शामिल हैं जो देश भर में डिजिटल भुगतान की पैठ और गहराई को मापने में सक्षम बनाता है।

ये पैरामीटर हैं:

  • भुगतान सक्षमकर्ता (25%)
  • भुगतान अवसंरचना – मांग-पक्ष कारक (10%)
  • भुगतान अवसंरचना – आपूर्ति-पक्ष कारक (15%)
  • भुगतान प्रदर्शन (45%)
  • उपभोक्ता केंद्रितता (5%)।

निष्कर्ष

आरबीआई ने घोषणा की है कि यह सूचकांक मार्च 2021 से शुरू होकर अर्ध-वार्षिक आधार पर प्रकाशित किया जाएगा और चार महीने के अंतराल के बाद प्रकाशित किया जाएगा। इस रिपोर्ट से पता चलता है कि देश डिजिटल और कैशलेस अर्थव्यवस्था की ओर बढ़ रहा है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments