मुंबई में 90% लोगों में है COVID-19 एंटीबॉडीज : सीरो सर्वे

कोविड-19 संक्रमण की तीसरी लहर की प्रत्याशा में 12 अगस्त से 9 सितंबर, 2021 के बीच एक नया सीरो सर्वेक्षण किया गया। यह बृहन्मुंबई नगर निगम का चौथा सीरो सर्वे है ।

मुख्य बिंदु 

यह अध्ययन 8,674 नमूनों पर किया गया था। इन नमूनों को शहर के सभी 24 वार्डों और झुग्गी-झोपड़ी के साथ-साथ गैर-झुग्गी-झोपड़ी क्षेत्रों में नगरपालिका औषधालयों और डॉक्टरों के कार्यालयों में जाने वाले लोगों से पूरी तरह से व्यवस्थित यादृच्छिक नमूने (random sampling) एकत्र किए गए थे।

मुख्य निष्कर्ष

  • इस रिपोर्ट के अनुसार, ग्रेटर मुंबई क्षेत्र में 86.64% लोगों में कोविड-19 एंटीबॉडी पाई गयी।
  • इसका मतलब है कि, वे कम से कम एक बार कोरोनावायरस के संपर्क में आ चुके हैं।
  • वैज्ञानिक अभी भी सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क और हैंड सैनिटाइज़र के उपयोग पर जोर दे रहे हैं।
  • झुग्गी-झोपड़ी और गैर-झुग्गी-झोपड़ी आबादी के बीच कोई महत्वपूर्ण अंतर नहीं है, जिसमें क्रमशः 87.02% से 86.22% की व्यापकता है।
  • इस रिपोर्ट में पुरुषों और महिलाओं के बीच थोड़ा अंतर पाया गया है। पुरुषों में सीरो का प्रसार 85.07% जबकि महिलाओं में 88.29% था।

नमूने कैसे एकत्र किए गए?

  • 65% नमूने ऐसे लोगों से लिए गए जिन्हें कोविड-19 वैक्सीन की कम से कम एक खुराक मिली थी।
  • गैर-टीकाकरण प्रतिभागियों में, केवल 79.86% लोगों में सीरो-प्रचलन का पता चला था।
  • 20% नमूने स्वास्थ्य कर्मियों से एकत्र किए गए थे। उनमें सेरो-प्रचलन 87.14% था।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments