मुक्केबाजी विश्व कप में भारत ने जीते 3 स्वर्ण पदक

भारत ने हाल ही में संपन्न हुए मुक्केबाजी विश्व कप में शानदार प्रदर्शन किया। इस कार्यक्रम का आयोजन जर्मनी के कोलोन में किया गया, इसका समापन 20 दिसम्बर, 2020 को हुआ। इस प्रतियोगिता में भारत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए कुल 9 पदक जीते, इसमें 3 स्वर्ण पदक, 2 रजत पदक और 4 कांस्य पदक शामिल हैं।

मुख्य बिंदु

इस प्रतियोगिता में भारतीय मुक्केबाज सिमरनजीत कौर (महिला 60 किग्रा), अमित पंघाल (पुरुष 52 किग्रा), और मनीषा मौन (महिला 57 किग्रा) ने अपने-अपने भार वर्ग में  स्वर्ण पदक जीते। गौरतलब है कि वर्तमान में अमित पंघाल एआईबीए फ्लाईवेट वर्ल्ड श्रेणी में शीर्ष स्तर के मुक्केबाज़ हैं। सिमरनजीत कौर एआईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता हैं।

सतीश कुमार (91+ किग्रा) ने रजत पदक जीता। वह चोट के कारण उन्हें फाइनल से पीछे हटना पड़ा। पूजा रानी (महिला 75 किग्रा), गौरव सोलंकी (पुरुष 57 किग्रा), सोनिया लाथेर (महिला 57 किग्रा), और मोहम्मद हुसामुद्दीन (पुरुष 57 किग्रा) ने अपने-अपने वर्ग में 4 कांस्य पदक जीते।

वर्तमान रैंकिंग

यूरोपीय मुक्केबाजी परिसंघ (EuropeanUBC) रैंकिंग के अनुसार, क्यूबा के जोहानिस ऑस्कर अरगिलगोस पेरेज़ 46-49 किलोग्राम श्रेणी में शीर्ष क्रम के मुक्केबाज हैं। महिला वर्ग में कजाकिस्तान की नाज़ीम क़ाज़ीबे 45-48 किलोग्राम वर्ग में शीर्ष मुक्केबाज़ हैं।

AIBA

अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ AIBA की स्थापना 1946 में की गयी थी। वर्तमान में उम्र नज़रोविच क्रेमलेव AIBA के अध्यक्ष हैं। यह संगठन अमेचर बॉक्सिंग मैचों को स्वीकृति देता है। इसका मुख्यालय लॉज़ेन, स्विट्जरलैंड में है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments