म्यांमार सेना की ‘फोर कट्स’ रणनीति (Four Cuts Strategy) क्या है?

1 फरवरी, 2021 को सैन्य तख्तापलट (military coup) में म्यांमार की निर्वाचित सरकार से सत्ता पर कब्जा करने के बाद म्यांमार की सेना, जिसे तातमाडॉ (Tatmadaw) के नाम से भी जाना जाता है, अपने शासन के प्रतिरोध पर नियंत्रण करने के लिए अपनी “फोर कट्स की रणनीति” पर लौट आई है।

पृष्ठभूमि

  • एक स्वतंत्र शोधकर्ता के अनुसार, ‘फोर कट्स’ रणनीति पहली बार 1960 के दशक में विकसित की गई थी।
  • म्यांमार की सेना ने यह रणनीति तब विकसित की थी जब वह बर्मा की कम्युनिस्ट पार्टी और म्यांमार के सबसे पुराने जातीय सशस्त्र समूह, करेन नेशनल यूनियन (Karen National Union) से लड़ने के लिए संघर्ष कर रही थी।
  • उस समय के दौरान इसका उपयोग विशेष रूप से अय्यरवाडी डेल्टा क्षेत्र (Ayeyarwady Delta Region) और बागो योमा (Bago Yoma) पर्वत श्रृंखला में किया गया था।
  • कैरन ह्यूमन राइट्स ग्रुप (Karen Human Rights Group) के नवा हटू (Naw Htoo) के अनुसार, KNU नियंत्रण वाले क्षेत्रों में सेना द्वारा ‘फोर कट’ रणनीति का इस्तेमाल किया गया था।इसने हर उस व्यक्ति और गांव को निशाना बनाया, जिसका KNU से संबंध था।
  • 2011 में तातमाडॉ और काचिन इंडिपेंडेंस ऑर्गनाइजेशन (Kachin Independence Organization) के बीच संघर्ष विराम के बाद म्यांमार की सेना ने काचिन राज्य में फोर कट्स का इस्तेमाल किया है।

फोर कट रणनीति क्या है? (Four Cuts Strategy)

1948-1960 के मलय आपातकाल के दौरान म्यांमार सेना को ब्रिटिश रणनीतियों का अध्ययन करने का मौका मिलने के बाद 1968 में “फोर कट्स” सिद्धांत को अपनाया गया था। उस समय के दौरान, औपनिवेशिक सत्ता ने धीरे-धीरे एक कम्युनिस्ट विद्रोह को दबा दिया। “फोर कट्स” एक सिद्धांत था जिसे विद्रोहियों को उनके प्रमुख इनपुट जैसे फंडिंग, भोजन, खुफिया जानकारी और रंगरूटों से अलग करने के लिए डिज़ाइन किया गया था। विद्रोहियों से निपटने के लिए इसे शुरू करने से पहले इस रणनीति पर सबसे पहले करेन विद्रोह के खिलाफ कार्यवाही की गयी थी। विद्रोहियों द्वारा नियंत्रित, आंशिक रूप से विद्रोही-नियंत्रित और सरकार द्वारा नियंत्रित क्षेत्रों को प्रतिबिंबित करने के लिए सेना ने म्यांमार को काले, भूरे और सफेद क्षेत्रों में विभाजित किया। ‘ब्लैक जोन’ सेना के लिए फ्री-फायर एरिया थे।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments