म्यांमार सेना ने राज्य प्रशासनिक परिषद को लांच किया

म्यांमार में सैन्य शासन ने एक नई राज्य प्रशासनिक परिषद की घोषणा की है। सेना प्रमुख जनरल आंग ह्लाइंग इस परिषद् के अध्यक्ष हैं,  इसमें 11 अन्य सदस्य शामिल हैं।

मुख्य बिंदु

राज्य प्रशासनिक परिषद के 11 सदस्यों में से आठ सैनिक हैं। जनरल मिन आंग ह्लाइंग ने केंद्र सरकार की बैठक को संबोधित करते हुए घोषणा की कि चुनावी मामलों और COVID-19 की रोकथाम को प्राथमिकता दी जाएगी। साथ ही वोटिंग फ्रॉड का पर्दाफाश करने की बात भी कही। सैन्य सरकार ने कर्तव्यों और कार्यों को लागू करने के लिए केंद्रीय चुनाव आयोग के पुनर्गठन की भी घोषणा की है। संयुक्त राष्ट्र प्रेस ब्रीफिंग के अनुसार, महासचिव क्रिस्टीन श्रनर बर्गनर के विशेष दूत ने परिषद के सदस्यों से म्यांमार में लोकतंत्र के समर्थन में स्पष्ट संकेत भेजने के लिए कहा है। देश में सैन्य नियंत्रण के विरोध में म्यांमार सविनय अवज्ञा आंदोलन का गठन किया गया है। देशभर के 30 शहरों के 70 अस्पतालों और चिकित्सा विभागों के कर्मचारियों ने काम बंद कर दिया है।

1 फरवरी को, सेना ने म्यांमार सरकार का नियंत्रण अपने हाथ में लिया। सेना द्वारा देश पर नियंत्रण करने के बाद, आंग सान सू की को हिरासत में लिया गया है।  नवंबर में देश में चुनावों में सू की की पार्टी को शानदार जीत मिली थी। सेना ने चुनाव में धोखाधड़ी का आरोप लगाया था।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments