यूक्रेन की नेपच्यून क्रूज मिसाइल (Neptune Cruise Missile) : मुख्य बिंदु

नेपच्यून एक यूक्रेनी जहाज-रोधी क्रूज मिसाइल का नाम है जिसे लूच डिजाइन ब्यूरो (Luch Design Bureau) द्वारा विकसित किया गया था। इस मिसाइल का डिजाइन सोवियत Kh-35 एंटी-शिप मिसाइल पर आधारित है। Kh-35 की तुलना में इसने इलेक्ट्रॉनिक्स और रेंज में सुधार किया है।

मुख्य बिंदु 

  • इस मिसाइल प्रणाली को परिवहन जहाजों और युद्धपोतों को नष्ट करने के लिए विकसित किया गया है।
  • इस मिसाइल प्रणाली ने मार्च 2021 में यूक्रेनी नौसेना की सेवा में प्रवेश किया।

मिसाइल का डिजाइन

इस मिसाइल प्रणाली में एक USPU-360 ट्रक-आधारित मोबाइल लॉन्चर, एक TZM-360 परिवहन वाहन, चार मिसाइल, RCP-360 नियंत्रण और कमांड वाहन, साथ ही एक विशेष कार्गो वाहन शामिल हैं। रॉकेट मोटर सहित मिसाइल की लंबाई 5.05 मीटर है। इन मिसाइलों को इस प्रकार डिजाइन किया गया है ताकि उन्हें परिवहन और लॉन्च कंटेनरों में रखा जा सके, जिनका आयाम 5.30 गुणा 0.60 गुणा 0.60 मीटर है। इस मिसाइल प्रणाली की अधिकतम सीमा लगभग 300 किलोमीटर है। एक मिसाइल का वजन 870 किलोग्राम होता है जिसमें से वारहेड का वजन 150 किलोग्राम होता है।

परिक्षण

मार्च 2016 में इस मिसाइल प्रणाली का पहला परीक्षण किया गया था। 2017 के मध्य में, विल्खा मिसाइलों के साथ नेप्च्यून मिसाइलों का परीक्षण किया गया था। जनवरी 2018 में इस मिसाइल का पहला सफल उड़ान परीक्षण किया गया था। 2018 में, इस मिसाइल ने सफलतापूर्वक एक लक्ष्य को नष्ट किया जो कि 100 किलोमीटर की दूरी पर रखा गया था।

इंडोनेशिया के साथ समझौता ज्ञापन

अप्रैल 2019 में मिसाइल का फिर से सफल परीक्षण किया गया। 2020 में, यूक्रेन द्वारा इंडोनेशिया के साथ कई नेप्च्यून मिसाइलों की आपूर्ति के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए, इस प्रकार इंडोनेशिया इस मिसाइल का पहला विदेशी खरीदार बना।

 मिसाइल का परिचालन इतिहास

13 अप्रैल, 2022 को यूक्रेन पर रूसी आक्रमण के दौरान रूसी क्रूजर मोस्कवा पर दो नेप्च्यून मिसाइलों ने हमला किया था।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments