राजस्थान में शुरू हुआ भारत-अमेरिका के बीच ‘युद्ध अभ्यास’

भारत-अमेरिका के संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘युद्ध अभ्यास’ का 16वां संस्करण राजस्थान में 8 फरवरी को शुरू हुआ और इसका समापन 21 फरवरी, 2021 को होगा।

मुख्य बिंदु

  • यह अभ्यास भारत-पाकिस्तान सीमा के पास आयोजित किया जाएगा।
  • यह भारत और अमेरिका की सेनाओं के बीच सहयोग और इंटरओपेराबिलिटी को बढ़ाने के उद्देश्य से आयोजित किया जाएगा।
  • यह अभ्यास आतंकवाद-निरोधी कार्रवाई पर भी केंद्रित होगा।
  • इससे पहले जनवरी 2021 में राजस्थान में भारत और फ्रांस की वायु सेनाओं के बीच पाँच दिनों का अभ्यास भी आयोजित किया गया था।
  • दोनों सेनाओं का द्विपक्षीय प्रशिक्षण अभ्यास महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में आयोजित किया जाएगा।
  • भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व जम्मू और कश्मीर राइफल्स की 11वीं बटालियन द्वारा किया जाएगा जो दक्षिण पश्चिमी कमान का हिस्सा है।
  • अमेरिकी सेना का प्रतिनिधित्व द्वितीय बटालियन, तृतीय इन्फैंट्री रेजिमेंट के सैनिकों द्वारा किया जाएगा।ये सैनिक 1-2 स्ट्राइकर ब्रिगेड कॉम्बैट टीम के हैं।

युद्ध अभ्यास

दोनों देशों की सेनाओं के बीच 2004 से ‘युद्ध अभ्यास’ आयोजित किया जा रहा है। दोनों सेनाओं के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए इस अभ्यास की रूपरेखा तैयार की गई है। इसमें दोनों पक्ष अपनी प्रशिक्षण तकनीकों, अपनी संस्कृति को साझा करते हैं।

अभ्यास का महत्व

यह अभ्यास दोनों सेनाओं के बीच रक्षा सहयोग के स्तर को बढ़ाने के उद्देश्य से आयोजित किया जाएगा। यह बदले में दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को भी बढ़ावा देगा। यह अभ्यास भारत-प्रशांत क्षेत्र में भारत की प्रमुख भूमिका को भी दर्शाता है। चीन के साथ उत्तरी सीमा पर हालिया घटनाओं के संबंध में भी यह अभ्यास भी महत्वपूर्ण है।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments