राष्ट्रीय रेल योजना – मुख्य बिंदु

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने 10 मार्च, 2021 को घोषणा की कि भारतीय रेलवे ने वर्ष 2030 तक भविष्य के लिए तैयार रेलवे प्रणाली स्थापित करने के लिए एक राष्ट्रीय रेल योजना (NRP) तैयार की है।

राष्ट्रीय रेल योजना (National Rail Plan-NRP)

केंद्रीय रेल मंत्री ने इस पर प्रकाश डाला कि राष्ट्रीय रेल योजना को परिचालन क्षमता और वाणिज्यिक नीति दोनों पहलों के आधार पर रणनीति तैयार करने के उद्देश्य से तैयार किया गया है। मालभाड़े में रेलवे की हिस्सेदारी को 45 प्रतिशत तक बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया गया है।

मुख्य बिंदु

रेल मंत्री ने निचले सदन को एक लिखित जवाब में कहा कि शहरी परिवहन शहरी विकास का एक अभिन्न अंग है और राज्य का विषय है। इसलिए, संबंधित राज्य शहरी परिवहन बुनियादी ढांचे या मेट्रो इन्फ्रास्ट्रक्चर जैसे मेट्रो रेल परियोजनाओं या मेट्रोलाइट या मेट्रोनेटो को शुरू करने और विकसित करने के लिए जिम्मेदार है। उन्होंने यह भी कहा कि, लॉजिस्टिक्स के लिए वैल्यू-फॉर-मनी समाधान प्रदान करके नए बिजनेस को आकर्षित करने के लिए कई बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट्स (BDU) स्थापित की गयी हैं।

Business Development Units

नए ट्रैफिक को आकर्षित करने और ट्रैफिक की मौजूदा धारा में रेल की हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए ऐसी इकाइयों को भारतीय रेलवे के सभी क्षेत्रों में बनाया गया है। BDU उद्योगों के साथ बातचीत करेंगे और उन उद्योगों को रेल द्वारा खेप ले जाने में सुविधा प्रदान करेंगे।

BDU का कार्य

BDU के मुख्य कार्यों में शामिल हैं:

  1. पारंपरिक थोक वस्तुओं के परिवहन में रेलवे की वर्तमान रेल हिस्सेदारी बढ़ाना।
  2. स्थानीय उद्योगों से नए गैर-थोक ट्रैफिक को आकर्षित करना।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments